एयरबेस की सुरक्षा को लेकर वायुसेना सख्त, अनधिकृत प्रवेश पर देखते ही गोली मारने के आदेश

नई दिल्ली (3 फरवरी): पठानकोट आतंकी हमले के बाद वायु सेना ने सुरक्षा के कड़े कदम उठाए हैं। वायु सेना ने पश्चिमी कमान के सभी एयर बेस को हाई अलर्ट पर रखा है साथ ही इनमें किसी के अनधिकृत प्रवेश पर देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं। 

रिपोर्ट के मुताबिक, वायु सेना ने इस हमले के बाद सभी प्रतिष्ठानों की सुरक्षा समीक्षा की थी, जिसमें कुछ कमियों का पता चला है। इसके बाद से वह अपने सभी 54 बड़े एयरबेस की सुरक्षा व्यवस्था को अभेद्य बनाने के लिए व्यापक प्रस्ताव तैयार कर रही है जिसे जल्द ही रक्षा मंत्रालय को भेजा जाएगा। इनमें से प्रत्येक एयरबेस की सुरक्षा को चाक चौबंद बनाने में 100 से 150 करोड़ रुपए की लागत आने की संभावना है। 

इस बारे में वायु सेना के सुरक्षा मामलों से जुड़े एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वायु सेना के सभी प्रतिष्ठानों के चारों ओर अत्याधुनिक सुरक्षा तकनीकों का इस्तेमाल किया जाएगा। यह काम सबसे पहले उन प्रतिष्ठानों में किया जाएगा, जिन पर हमले की आशंका सबसे अधिक है। उन्होंने बताया, "अभी पश्चिमी कमान के लगभग सभी एयर बेस हाई एलर्ट पर हैं और इनमें किसी के भी अनधिकृत प्रवेश पर गोली मारने के आदेश दिए गए हैं।" एक अन्य अधिकारी ने बताया, "जब भी कोई एयर बेस हाई एलर्ट पर होता है, वह एक तरह से युद्ध क्षेत्र में तब्दील हो जाता है।"