इस धाकड़ ऑलराउंडर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

नई दिल्ली (4 मार्च): अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी से विरोधियों के पसीने छुड़ाने वाले वेस्ट इंडीज धाकड़ ऑलराउंडर ड्वेन स्मिथ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है।  ड्वेन स्मिथ ने क्रिकेट से सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है।

ड्वेन स्मिथ ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला आईसीसी वर्ल्ड कप 2015 में यूएई के खिलाफ खेला था। स्मिथ मुख्य रूप से सीमित ओवरों के बल्लेबाज के रूप में जाने गए। उन्होंने 105 वनडे में 1560 रन बनाए और 61 विकेट लिए। स्मिथ ने 2003-04 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट मैच में शतक बनाकर छाप छोड़ी थी। उन्होंने कुल 10 'टेस्ट मैचों में 24.61 की औसत से 320 रन बनाए।

स्मिथ ने वेस्ट इंडीज के लिए दो वर्ल्ड कप खेले। 2007 में टीम के शर्मनाक प्रदर्शन के बाद वह करीब तीन साल तक टीम से बाहर रहे। 2010 में उनकी एक बार भी अंतरराष्ट्रीय टीम मे वापसी हुई। स्मिथ ने वेस्ट इंडीज के लिए तीन आईसीसी वर्ल्ड टी20 खेले। उन्होंने 2007, 2012 और 2014 में कैरेबियाई टीम का प्रतिनिधित्व किया। स्मिथ ने 122.78 के स्ट्राइक रेट से 582 रन बनाए। मार्च 2015 से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर रहने के बावजूद वह दुनियाभर की घरेलू टी20 लीग में नजर आ रहे थे। उन्होंने आईपीएल के चार सीजन खेले। इसके अलावा वह बांग्लादेश प्रीमियर लीग, पीएसएल और इंग्लैंड में नेटवेस्ट ब्लास्ट में भी खेलते रहे।