पश्चिम बंगाल में डाक्टरों के आगे झुकी ममता बनर्जी, आज निकल सकता है समाधान

Doctors-Strike

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 जून): पश्चिम बंगाल में डॉक्टर्स की हड़ताल का गतिरोध थमता नजर आ रहा है। कल देर शाम पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हड़ताली डॉक्टर्स से काम पर लौटने की अपील की।  उन्होंने ये भी कहा है कि डॉक्टर्स की सभी मांगे मान ली गई हैं। ममता  ने कहा कि राज्य सरकार सभी जरूरी कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है और सरकार ने निजी अस्पताल में भर्ती जूनियर डॉक्टर के इलाज के सभी खर्चों को उठाने का फैसला लिया है। ममता ने कहा कि उन्होनें लगातार हड़ताली डॉक्टरों से बात करने की कोशिश की लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। ममता बनर्जी के इस रुख के बाद उम्मीद की जा रही है कि अब  डॉक्टर भी इस मामले पर नरम रुख दिखाते हुए आज अपनी हड़ताल वापस ले सकते हैं। उससे पहले डॉक्टरों और ममता बनर्जी के बीच बातचीत भी हो सकती है।

Mamata Banerjee

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल में अब देश भर के डॉक्टर जुड़ गए हैं। इसका देश भर में व्यापक असर दिखाई दे रहा है। इस बीच खबर है कि ममता घायल डॉक्टरों से मिलने जा सकती हैं, जो इस वक्त प्राइवेट अस्पताल में भती हैं। कोलकाता में डॉक्टरों की हड़ताल का आज छठा दिन है। इससे पहले जूनियर डॉक्टरों ने सचिवालय जाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात और बात करने से इनकार कर दिया था। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री NRS अस्पताल आकर उनसे बात करें। इन डॉक्टरों की मांग है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने बयान को वापस लें। मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों को अल्टीमेटम देते हुए कहा था कि जो डॉक्टर काम पर नहीं लौटेंगे, उन्हें हॉस्टल छोड़ना होगा। साथ ही सीएम ममता बनर्जी ने डॉक्टरों की हड़ताल को माकपा और भाजपा की साज़िश बताया था।

doctors-strike

आपको बता दें कि ये पूरा मामला उस वक़्त शुरू हुआ था सोमवार देर रात एक दिल के मरीज की हार्ट अटैक से मौत हो जाने पर उनके परिजनों ने 2 जूनियर डॉक्टरों की जमकर पिटाई कर दी थी। जिसमें ये गंभीर तौर से घायल हो गए थे। इसके बाद सुरक्षा के लिए सशस्त्र पुलिस बल की मांग करते हुए कोलकाता में डॉक्टर मंगलवार से हड़ताल पर चले गए।