पश्चिम बंगाल में रथ यात्रा के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंची बीजेपी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 दिसंबर): पश्चिम बंगाल में बीजेपी की रथरात्रा का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। कलकत्ता हाईकोर्ट की दो जजों की पीठ ने बीजेपी की इस यात्रा पर रोक लगा दी थी। बीजेपी ने हाइकोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। फिलहाल ये साफ नहीं है कि मामले की सुनवाई कब होगी। दरअसल, इन दिनों सुप्रीम कोर्ट में क्रिसमस और नए साल की छुट्टियां चल रही हैं। सुप्रीम कोर्ट दो जनवरी तक बंद रहेगा, लिहाजा मामले की सुनवाई कब होगी ये साफ नहीं हो सका है। आपको बता दें कि कलकत्ता हाई कोर्ट की सिंगल बेंच ने पहले भारतीय जनता पार्टी को ट्रैफिक नियमों का पालन और कुछ अन्य शर्तों के साथ रथ यात्रा की अनुमति दे दी थी। जिसके बाद पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने सिंगल बेंच के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट के डबल बेंच में अपील की थी। जिसके बाद हाईकोर्ट की डबल बेंच ने बीजेपी की रथ यात्रा पर रोक लगा दी थी।

आपको बता दें कि अगले साल देश में आम चुनाव होने हैं और बीजेपी पश्चिम बंगाल में अपनी स्थिति मजबूत करनी चाहती है। इसी कड़ी में बीजेपी राज्य में तीन रथ यात्राएं निकालना चाहती है। लेकिन पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने बीजेपी को इसकी इजाजत नहीं दी। बीजेपी 7 दिसंबर को कूचबिहार से पहली, 9 दिसंबर को 24 परगना से दूसरी और 14 दिसंबर को बीरभूमि से तीसरी रथ यात्रा निकालना चाहती थी , लेकिन पहले पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से इसकी इजाजत नहीं मिलने और फिर हाई कोर्ट की रोक के कारण यात्रा निकल ही नहीं पाई थी।

आपको बता दें कि इस मसले को लेकर बीजेपी का रूख आक्रमक है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह समेत पूरी पार्टी लगातार इस मसले पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साध रहे हैं। 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी पश्चिम बंगाल में अपनी पैठ बढ़ाना चाह रही है. अमित शाह ने बंगाल में 22 से अधिक लोकसभा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. पश्चिम बंगाल में कुल 42 लोकसभा सीटें हैं, 2014 में इनमें से ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने 34 सीटों पर, भारतीय जनता पार्टी ने 2 सीटों पर जीत दर्ज की थी।