चुनाव बाद भी बंगाल में नहीं थम रही हिंसा, TMC नेता की गोली मारकर हत्या

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (5 जून): पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद भी हिंसा थमता नहीं दिख रहा है।  ताजा मामला कोलकाता के दमदम इलाके का है। यहां मंलगवार रात टीएमसी के एक नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। टीएमसी नेता की पहचान निर्मल कुंडू के तौर पर हुई है। पुलिस के अनुसार कुछ बाइक सवार बदमाशों ने निर्मल को सिर पर करीब से गोली मारी। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया। टीएमसी ने हत्या की जघन्य वारदात के लिए बीजेपी को दोषी ठहराया है। टीएमसी का आरोप है कि हत्या के पीछे बीजेपी के लोगों का हाथ है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी 30 मई को बर्दवान जिले में बीजेपी के एक कार्यकर्ता सुशील मंडल की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। बीजेपी ने इसके लिए टीएमसी को जिम्मेदार बताया था। बताया जा रहा है कि मंडल मोदी के शपथ ग्रहण से पहले बीजेपी के झंडे लगा रहा था इसी दौरान उस पर किसी ने चाकू से हमला कर दिया और फरार हो गया।

गौरतलब है कि हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में दमदम सीट पर बीजेपी और टीएमसी में कांटे की टक्कर हुई थी। इस दौरान टीएमसी के उम्मीदवार सौगत रॉय ने बीजेपी के सामिक भट्टाचार्य को हराया था। इस सीट पर सीपीएम के प्रत्याशी नेपालदेब भट्टाचार्य भी खड़े हुए थे जिन्हें भी हार का सामना करना पड़ा था। इससे पहले भी पश्चिम बंगाल से इन दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों की हत्याओं की खबरें आती रही हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां हिंसा की खबरें आती रही थीं. जिसके चलते चुनाव आयोग ने समय से पहले चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि अब चुनाव बाद भी पश्चिम बंगाल के माहौल में नर्मी आते नहीं दिख रही है। स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक दम दम इलाके में टीएमसी कार्यकर्ती की हत्या के बाद एक बार फिर माहौल तनावग्रस्त हो गया है।