पश्चिम बंगाल में एक और बीजेपी कार्यकर्ता की संदिग्ध मौत, TMC पर साजिश का आरोप

कोलकाता (2 जून): पश्चिम बंगाल में एक और बीजेपी कार्यकर्ता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। बताया जा रहा है बीजेपी कार्यकर्ता का शव एक खंभे से लटका हुआ मिला। पूरा मामला पुरुलिया जिले के बलरामपुर इलाके के दाभा गांव की है, यहां बीजेपी कार्यकर्ता दुलाल कुमार की लाश एक हाईटेंशन टावर लटका मिला है। फिलहाल पुलिस इस घटना को खुदकुशी मानकर चल रही है। हालांकि पुलिस सभी एंगल से मामले की जांच कर रही है।आपको बता दें कि यह दूसरी घटना है, जिसमें पुरुलिया में भाजपा कार्यकर्ता की लाश इस तरह लटकती पायी गई है। इसी हफ्ते एक अन्य मामले में भी भाजपा कार्यकर्ता त्रिलोचन महतो की लाश एक पेड़ से लटकती पायी गई थी।वहीं भाजपा का आरोप है कि इसके पीछे टीएमसी का हाथ है और टीएमसी पुरुलिया से विपक्ष का सफाया करना चाहती है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इन घटनाओं की घोर निंदा की है और राज्य की टीएमसी सरकार पर कोई कारवाई ना करने का आरोप लगाया है। वहीं दूसरी तरफ टीएमसी ने इन सभी आरोपों को निराधार बताया है।गौरतलब है कि पुरुलिया से टीएमसी के सांसद अभिषेक बनर्जी, जो कि टीएमसी चीफ ममता बनर्जी के भतीजे हैं। पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत को लेकर चेतावनी दी है और कहा है कि इससे स्थिति ‘खतरनाक’ हो सकती है, क्योंकि इससे उद्देश्य की प्राप्ति के लिए कई लोगों की जानें जा सकती हैं। दिलीप घोष ने 24 उत्तर परगना में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह से टीएमसी लोगों की हत्या कर राज्य को विपक्ष-मुक्त करना चाहती है, वह बेहद खतरनाक हो सकता है। यह किस तरह राजनीति है? किस तरह का प्रशासन है?