...तो एक बार फिर कोहली की कप्तानी में खेलते युवराज!

नई दिल्ली(8 फरवरी): रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरू के निदेशक अमृत थामस ने कहा कि उनकी टीम युवराज सिंह को फिर खरीदना चाहती थी जिन्हें आईपीएल की नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद ने सात करोड़ रूपये में खरीदा। थामस ने कहा कि मैं नहीं मानता कि युवराज में टीमों की दिलचस्पी नहीं थी। हम उसे खरीदना चाहते थे लेकिन दाम बढ़ने के कारण हम खरीद नहीं सके। वह मार्की खिलाड़ी हैं और उम्मीद है कि भविष्य में हमारे लिए फिर खेलेंगे।

पिछली दो नीलामी में सबसे महंगे बिके युवराज इस बार खुशकिस्मत नहीं रहे। अब तक वह चार टीमों किंग्स इलेवन पंजाब, पुणे वारियर्स इंडिया, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरू और दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलकर 98 मैचों में 2099 रन बना चुके हैं।थामस ने कहा कि उनकी टीम अंतरराष्ट्रीय हरफनमौला को चाहती थी और शेन वॉटसन पर 9.5 करोड़ रूपये खर्च करने का उन्हें मलाल नहीं है।

उन्होंने कहा कि हमें टीम में सही संतुलन बनाने के लिये वॉटसन की जरूरत थी और यही वजह है कि हमने उसे इतने उंचे दाम पर खरीदा। वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला हैं और हाल ही में बेहतरीन प्रदर्शन भी किया है।राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स के सीईओ रघु अय्यर ने कहा कि हमारे पास सिर्फ पांच खिलाड़ी हैं और हमें टीम बनानी है। हमें हरफनमौलाओं की जरूरत थी लेकिन हमें मिले खिलाड़ियों से हम खुश हैं।