इन तरीकों को अपनाकर कंट्रोल करें अपना कोलेस्ट्रॉल

नई दिल्ली (9 अगस्त): कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगे तो जंक फ़ूड के साथ अधिक वसादार खाने से परहेज़ शुरू कर दीजिए। दिन की प्रारम्भ व्यायाम, योग और हेल्दी ब्रेकफ़ास्ट करें, साथ ही कोलेस्ट्रॉल स्तर ठीक रखने के लिए प्राकृतिक उपाय कीजिए।

1. मोटापा कम करें

मोटापा कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के प्रमुख कारणों में से एक है। हाई कोलेस्टेरॉल का ख़तरा बढ़ने पर वज़न को बढ़ने मत दीजिए। अधिक मोटापा हाई कोलेस्टेरॉल के साथ साथ डायबिटीज़ और हाई ब्लड प्रेशर का भी कारण होता है।

2. योग और व्यायाम करें

योग और व्यायाम के लिए वज़न बढ़ने का इंतज़ार मत कीजिए। योग करने से रक्त संचार ठीक रहता है, हृदय रोगों से बचाता है, और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

– कोलेस्टेरॉल से पीड़ित व्यक्ति सप्ताह में 5 दिन व्यायाम कराएँ।

– आप जॉगिंग, साइकलिंग, तैराक़ी और एरोबिक्स कर सकते हैं।

– जिन्हें योग और व्यायाम मना हो, वे आधा घंटा रोज़ टहलें।

3. पोषक भोजन खाएँ

– कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के लिए फ़ैट बढ़ाने वाले चीज़ें न खाएँ। वो हर चीज़ खा सकते हैं, जिससे सभी पोषक तत्व हों।

– अंडे की ज़र्दी, जंक फ़ूड, तली-भुनी चीज़ें, फ़ुल क्रीम मिल्क और रेड मीट खाने से परहेज़ कीजिए।

4. दवाओं का प्रयोग डॉक्टरी सलाह से

दवाओं का प्रयोग सुनी सुनाई बातों पर करने बजाय डॉक्टर की मशविरे से करें। इसके साथ जीवनशैली में आवश्यक बदलाव करके दवाई पर निर्भर ख़त्म की जा सकती है। इससे हृदय रोगों से भी बचेंगे।

– हाई कोलेस्टेरॉल कम करने के लिए आयुर्वेदिक दवाएँ बहुत कारगर हो सकती हैं। रोग के उपचार से अच्छा है कि आप शुरुआत में परहेज़ कर लें। इससे कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहेगा और आप स्वस्थ जीवन जी सकेंगे।