भारत को ईरान से गैस मिलने का रास्ता साफ, जला पाकिस्तान

नई दिल्ली ( 26 अक्टूबर ) : पाकिस्तान के मंसूबों पर पानी फेरते हुए भारत ने ऊर्जा सुरक्षा के नजरिए से अहम फरजाद-बी गैस फील्ड की डील पर इरान के साथ बातचीत आगे बढ़ाने में सफला हासिल की है। दोनों देशों ने यह लक्ष्य तय किया है कि इस बारे में समझौते पर फरवरी 2017 तक साइन कर लिए जाएंगे। इस गैस फील्ड में 18.75 ट्रिलियन क्यूबिक फीट गैस होने का अनुमान है। भारत के इस सफलता पाकिस्तान को एक और झटका लगा है और पाकिस्तान भारत के इस कदम से जल रहा होगा।

इस गैस फील्ड को भारतीय कंपनियों ने 2008 में खोजा था, लेकिन इसके कमर्शल उपयोग के लिए अब तक कोई औपचारिक समझौता नहीं हो सका है। ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों के कारण इस दिशा में बात आगे नहीं बढ़ सकी थी। ईरान को प्रतिबंधों में ढील मिलने के बाद पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान अप्रैल में वहां गए और वहां के तेल मंत्री से बात की।

खबरों के मुताबिक पेट्रोलियम मंत्रालय में संयुक्त सचिव संजय सुधीर ने ईरान में इस प्रॉजेक्ट पर वहां के तेल उप मंत्री से समझौते के बिंदुओं पर चर्चा की। भारत इन दिनों ऊर्जा सुरक्षा के लिए ईरान, रूस समेत कई देशों में तेल और गैस फील्ड के विकास पर बात कर रहा है।