'मोम के मोदी' को देख पीएम बोले- 'भगवान ब्रह्मा वाला काम'

नई दिल्ली (20 अप्रैल): भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को मैडम तुसाद के म्युजियमों में  ग्लोबल लीडर्स की लीग में शामिल हो गए। मोम के बने उनके तीन पुतले  सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग और बैंकॉक में लगाए गए। आठ दिन बाद उनका एक पुतला लंदन में भी लगाया जाएगा। जहां अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरन, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांदे के पुतले पहले से ही मौजूद हैं।  

'मैडम तुसाद सिंगापुर' के बुधवार को जारी बयान के मुताबिक, मोदी अपने मोम के पुतले से इस सप्ताह पहले ही नई दिल्ली में मिल चुके हैं। 

प्रेस रिलीज में कहा गया है कि मोदी ने अपने पुतले को देखने के बाद कहा, "मैं क्या कह सकता हूं? जहां तक कला का सवाल है, मैडम तुसाद की टीम जो भी करती है वह असाधारण है। जो भगवान ब्रह्मा करते हैं, वही ये कलाकार कर रहे हैं।" 

बता दें कि ऐसे एक पुतले को बनाने में कलाकारों की टीम को चार महीने का समय लगता है। साथ ही करीब 3 लाख डॉलर का खर्चा आता है।

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=anulC5SlEH8[/embed]