जलकर राख में तब्दील हो गयी गेंहू की 30 हजार बोरियां

मोगा (1 मई): पंजाब के मोगा के बाघापुराना में एक सरकारी गोदाम में अचानक आग लग गयी, जिससे गोदाम में स्टॉक कर रखी गई अनाज कि 30 हजार बोरियों जलकर राख में तब्दील हो गयी। आग इतनी जबरदस्त थी कि पड़ोसी जिलों से फायर ब्रिगेड की गाडियों को बुलाना पड़ा। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है।

मोगा का सरकारी गोदाम बाघा पुराना में है जहां लगभग डेढ़ लाख बोरी गेंहू स्टोर हो चुकी थी। इसे खुले आसमान के नीचे रखा गया था। दोपहर को अचानक लगी इस आग में सबकुछ स्वाहा हो गया। इसे काबू में करने के लिए दमकल गाड़ियां भी मंगवाई गई लेकिन जब तक आग ठंडी होती 30 हजार बोरियां जल चुकी थी।

तआज्जुब की बात ये है कि जिस गोदाम में लाखो बोरिया गेहूं रखी गई थी आग का दूर-दूर तक वास्ता नहीं था। न शॉर्ट सर्किट का डर और न ही खाना बनाने का चक्कर, फिर ये आग कैसे लगी ये अबतक अनबुझ पहेली बनी हुई है।

आगजनी के मौसम में सरकारी गोदामों में भी जमकर आग लग रही है। तीन दिन पहले लुधियाना के सरकारी गोदाम में भी ऐसी आग की चपेट में आकर गेहूं कि 30 हजार बोरियां जलकर खाक हो गई थी और दोनों जगह आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया। अब सवाल ये उठता है कि कौन है जो सरकारी गोदामों में रखे गेंहू में आग लगा रहा है , सरकारी गोदामों में रखे गंहू में आग लगाने से किसका फायदा है।