Big Breaking: बुरहान वाणी को शरीफ ने फिर बताया शहीद, बोले- हम युद्ध नहीं चाहते

इस्लामाबाद (5 अक्टूबर): लगता है पाकिस्तान किसी भी हालत में सुधरने वाला नहीं है। क्योंकि पाकिस्तानर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपनी देश की संसद में एक बार फिर सफेद झूठ बोला। नवाज ने कहा कि पाकिस्तान का उरी हमले में कोई हाथ नहीं है और भारत ने हमारी जांच की मांग को भी ठुकरा दिया।

नवाज ने बेबुनियाद आरोप लगाते हुए कहा कि हमने उरी हमले में भारत के साथ संयुक्त जांच की बात कही थी, जिसे भारत ने मना कर दिया। इसी के साथ उन्होंने एक बार फिर कश्मीर के राग अलापा और आतंकी बुरहान वाणी को शहीद बता डाला।  वहीं उन्होंने कहा कि हम युद्ध नहीं बल्कि शांति चाहते हैं। हम कश्मीर सहित सभी मुद्दों का हल चाहते हैं।

शरीफ ने पाकिस्तान की संसद में दिए अपने भाषण में कहा... - पाकिस्तान खुले दिल से उरी हमले की अंतरराष्ट्रीय स्तर की जांच का सुझाव देता है। - हमने बातचीत के लिए भारत को तैयार करने की हर संभव कोशिश की, लेकिन भारत ने ऐसा नहीं होने दिया। - पाकिस्तान आतंकवाद से सबसे अधिक पीड़ित है। - हम युद्ध के खिलाफ हैं, हम बातचीत और शांति चाहते हैं। - विश्व शक्तियों को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र का रेजॉल्यूशन लागू हो सके। - उरी हमले की जांच किए बगैर भारत ने इसका आरोप पाकिस्तान पर लगाया। - नवाज शरीफ ने पाक संसद को संबोधित करते हुए भारत पर सीज फायर के उल्लंघन का आरोप लगाया। - विश्व शक्तियों को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र का रेजॉल्यूशन लागू हो। - पाकिस्तान की संसद को संबोधित करते हुए नवाज शरीफ ने आतंकी बुरहान वानी का जिक्र कर उसे फिर हीरो बताया।