विदेश मंत्रालय ने लॉन्च किया एप, ऐसे करेगा लोगों की मदद

नई दिल्ली ( 25 दिसंबर ): विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने टि्वटर पर लोगों की समस्याएं सुनती हैं और उनकी तुरंत मदद भी करती हैं। सुषमा स्वराज की किडनी ट्रांसप्लांट के की वजह से अस्पताल में रहने के दौरान भी जिन लोगों ने उन्हें ट्वीट कर समस्याएं बताईं, उन्हें निराश नहीं होना पड़ा। इस पहल को और मजबूत बनाते हुए उनके मंत्रालय ने ' टि्वटर सेवा' की शुरुआत की है। इस ऐप के जरिए टि्वटर के माध्यम से आने वाली समस्याओं की सुनवाई की जाएगी।

इस सेवा के माध्यम से लोग क्षेत्रीय भारतीय दूतावास और क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय से त्वरित मदद हासिल कर सकेंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने जानकारी देते हुए बताया कि ' टि्वटर सेवा' का उद्घाटन विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने किया। ' टि्वटर सेवा' से करीब 200 सोशल मीडिया हैंडल्स को जोड़ा गया है। इनमें से 198 भारतीय मिशन, जो विदेश में स्थित हैं, 29 क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय व 8 अन्य सरकारी टि्वटर हैंडल्स हैं

इनमें से अगर आप किसी भी हैंडल को संबोधित करते हुए अपनी समस्या साझा करते हैं, तो वह सीधे ' टि्वटर सेवा' के प्लैटफॉर्म पर पहुंच जाएगी। कहा गया है कि 'टि्वटर सेवा' से समस्याओं का समाधान जल्द से जल्द हो जाएगा। स्वरूप ने बताया, 'मंत्रालय का उद्देश्य है कि उसके नागरिक, जो देश में या देश से बाहर हैं, उनकी सुरक्षा त्वरित व पारदर्शी तरीके से सुनिश्चित हो। इस तरह की 'टि्वटर सेवा' टेलिकॉम मिनिस्ट्री भी अगस्त में ला चुकी है। इसी साल अप्रैल में भी वाणिज्य एवं औद्योगिक मंत्रालय ने ऐसी एक सेवा की शुरुआत की थी।