Blog single photo

''एक-दूसरे के बगैर नहीं रह सकते शिवसेना और बीजेपी''

गडकरी ने मंगलवार को कहा कि बीजेपी और शिवसेना में कुछ मतभेद हो सकते हैं, लेकिन दोनों का एक-दूसरे के बिना काम नहीं चल सकता। लेकिन वह चाहते हैं कि दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन चलता रहे। गडकरी का कहना है कि बीजेपी और शिवसेना एक-दूसरे के बगैर नहीं रह सकते।

नई दिल्ली ( 29 मई ): केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को कहा कि बीजेपी और शिवसेना में कुछ मतभेद हो सकते हैं, लेकिन दोनों का एक-दूसरे के बिना काम नहीं चल सकता। लेकिन वह चाहते हैं कि दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन चलता रहे। गडकरी का कहना है कि बीजेपी और शिवसेना एक-दूसरे के बगैर नहीं रह सकते।गडकरी ने कहा कि गठबंधन में कोई वैचारिक मतभेद नहीं है। उन्होंने कहा कि राजनीति में कोई स्थाई मित्र या शत्रु नहीं होता है। मोदी सरकार के चार साल पूरा होने के मौके पर मीडिया से बातचीत के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'यह गठबंधन दिवंगत बाल ठाकरे (शिवसेना प्रमुख) और प्रमोद महाजन (बीजेपी के दिवंगत नेता) ने हिंदुत्व के मुद्दे पर किया था और दोनों पार्टियों के बीच कोई वैचारिक मतभेद नहीं हैं। मैं चाहता हूं कि गठबंधन चलता रहे।'केंद्रीय मंत्री ने एक मराठी कहावत का उल्लेख करते हुए कहा, ‘तुझा माझा जमे ना, तुझा वचुन कर्मे ना (हमारे बीच काफी मतभेद है, लेकिन इसके बावजूद हम एक-दूसरे के बगैर नहीं रह सकते)।’ उन्होंने कहा कि गठबंधन के दोनों घटक दलों की भी स्थिति उसी तरह है। दोनों दलों के बीच मध्यस्थता करने के सवाल पर गडकरी ने कहा कि वह दिल्ली में अपने मंत्रालय संबंधी काम में काफी व्यस्त हैं और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष रावसाहब दाणवे स्थिति से निपटने में सक्षम हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top