जुलाई से शुरू होगी फॉक्सवेगन एमियो की डिलिवरी

पिछले साल काफी चर्चा में रही फॉक्सवेगन की पहली कॉम्पैक्ट सेडान एमियो एक बार फिर सुर्खियों में है। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक एमियो की डिलिवरी जुलाई महीने से शुरू होगी। फॉक्सवेगन ने एमियो से फरवरी में पर्दा उठाया था।

एमियो को फॉक्सवेगन ने भारतीय बाजार के मुताबिक ही बनाया है। कंपनी की लंबे वक्त से यह रणनीति रही है कि स्थानीय बाजारों की मांग, पसंद और जरूरत के मुताबिक ही कारें बनाई जाएं। माना जा रहा है कि कॉम्पैक्ट सेडान सेगमेंट में अमियो का प्रदर्शन अच्छा रहेगा और यह कंपनी की छवि को सुधारने में अहम भूमिका निभाएगी।

एमियो को पुणे स्थित चाकण प्लांट में बनाया जा रहा है। इसे पोलो हैचबैक और वेंटो सेडान के बीच में रखा जाएगा। एमियो का मुकाबला यहां होंडा अमेज़, मारूति सुज़ुकी स्विफ्ट डिज़ायर, हुंडई एक्सेंट, टाटा ज़ेस्ट और फोर्ड फीगो एस्पायर से होगा। इसके अलावा टाटा की ही नई कॉम्पैक्ट सेडान काईट-5 (कोडनेम) और रेनो की संभावित कॉम्पैक्ट सेडान कार से भी एमियो को भविष्य में मोर्चा लेना होगा।

एमियो का डिजायन वैसा ही है जैसा फॉक्सवेगन की दूसरी कारों में देखने को मिलता है। हालांकि एमियो के बूट को थोड़ा सा बाहर की तरफ रखा गया है, जो इसे दूसरों से अलग बनाता है। कार का इंटीरियर पोलो से मिलता-जुलता है।

इंजन स्पेसिफिकेशन की बात करें तो एमियो को पेट्रोल और डीज़ल दोनों इंजन विकल्पों में उतारा जाएगा। पेट्रोल वर्जन में 1.2 लीटर का इंजन होगा। यह इंजन 75 पीएस की पावर और 110 एनएम का टॉर्क देगा। डीज़ल में 1.5 लीटर का इंजन होगा जो 90 पीएस की ताकत और 230 एनएम का टॉर्क देगा। दोनों इंजन 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से जुड़े होंगे। लॉन्च के बाद इसमें ऑटोमैटिक डीएसजी गियरबॉक्स की भी पेशकश की जा सकती है।

कारदेखो

जुलाई से शुरू होगी फॉक्सवेगन एमियो की डिलिवरी