आइडिया के साथ विलय की चर्चा पर वोडाफोन का बयान आया सामने

नई दिल्ली (30 जनवरी): वोडाफोन ने आदित्य विक्रम बिड़ला समूह की कंपनी आयडिया सेलुलर के साथ विलय पर चर्चा की पुष्टि की है। इस विलय के तहत वोडाफोन की भारतीय इकाई का आयडिया सेलुलर के साथ विलय हो जाएगा। इस विलय के बाद इन दोनों के विलय से बनी कंपनी दूरसंचार क्षेत्र में इस देश की सबसे बड़ी कंपनी होगी।

इस खबर के बाद आयडिया के शेयरों में 29 फीसदी तक की तेजी दर्ज की गई। खबर लिखते समय आयडिया के शेयर NSE पर 26.47% की तेजी के साथ 98.40 रुपए पर कारोबार कर रहे थे। वोडाफोन इस बात की पुष्टि करता है कि आयडिया सेलुलर के साथ उसकी भारतीय इकाई वोडाफोन इंडिया के विलय को लेकर आदित्य बिड़ला समूह से चर्चा जारी है। हालांकि, इसमें इंडस टावर्स और आइडिया में वोडाफोन की 42 फीसदी हिस्सेदारी शामिल नहीं है।

वोडाफोन के बयान के मुताबिक, आयडिया से वोडाफोन तक नए शेयरों के जारी होने से विलय प्रभावी होगा और इससे वोडाफोन से वोडाफोन इंडिया अलग हो जाएगा।