...तो इसलिए अपनी बेटियों को दुनिया से ‘छिपाकर’ रखते हैं पुतिन

नई दिल्ली (4 सितंबर): रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन दुनिया के सबसे ताकतवर नेताओं में से एक हैं। लेकिन उनकी व्यक्तिगत जिंदगी के बारे में दुनिया के कम ही लोग जानते हैं। राष्ट्रपति पुतिन की हमेशा ही यह कोशिश रही है कि उनकी बेटियां दुनिया की नजरों में न आएं। 

जहां पुतिन की बड़ी बेटी के हॉलैंड में होने की खबर मिली थी, वहीं कम ही लोग जानते होंगे कि पुतिन की छोटी बेटी देश की राजधानी मॉस्को में ही नाम बदलकर रह रही थीं। पुतिन एक खुफिया एजेंट भी रहे हैं और जब वह रूस के प्रधानमंत्री बने, तो उन्होंने अपनी दोनों बेटियों को इंटरनेशनल स्कूल से निकालकर घर पर ही उनकी शिक्षा-दीक्षा की व्यवस्था कराई। इसके पीछे बेटियों की सुरक्षा को कारण बताया गया।

कम ही लोगों को पता है कि रूस के वर्तमान राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन सोवियत संघ की खुफिया एजेंसी KGB के एजेंट रहे हैं। उन दिनों की छाप आप आज भी राष्ट्रपति पुतिन के हावभाव में देख सकते हैं। 

पुतिन की छोटी बेटी येकातेरीना उस वक्त अचानक खबरों में आ गई थीं जब पता चला था कि वह मॉस्को में ही नाम बदलकर रह रही हैं। उन्होंने अपना नाम कैटरीना तीखोनोवा रख लिया था। 

मारिया के हॉलैंड छोड़ने की खबरों के बीच व्लादिमिर पुतिन ने दावा किया था कि उनकी दोनों बेटियां मॉस्को में ही हैं। उन्होंने कभी भी यह बात नहीं मानी कि उनकी कोई बेटी हॉलैंड में कभी रही है। अब उनके इस इनकार के पीछे क्या कारण है, यह तो वही जानें, लेकिन इतना तो तय है कि पुतिन अपनी दोनों ही बेटियों को दुनिया की नजरों से हमेशा बचाकर रखना चाहते हैं।