मोसुल में मारे गए 39 भारतीयों का अवशेष आज पहुंचेगा स्वदेश

नई दिल्ली (2 अप्रैल): 2014 में ISIS के हाथों मारे गए 39 भारतीय के अवशेष आज स्वदेस पहुंचेगा। 39 भारतीयों के शव को लेने के लिए विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह इराक पहुंच चुके हैं। खबरों के मुताबिक इराकी अधिकारियों ने उन्हें सभी 39 भारतीयों के सौंप दिए हैं। सभी अवशेषों को भारतीय वायुसेना की मदद से सबसे पहले अमृतसर लाया जाएगा, फिर पटना और कोलकाता ले जाया जाएगा।

आपको बता दें इराक के मोसुल से अगवा कर बादुश में मार डाले गए इन लोगों में से 31 पंजाब के थे। विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, सभी अवशेषों के डीएनए मिलान का काम पूरा कर लिया गया है।इन भारतीयों के मारे जाने की आशंका जून 2014 में जताई गई थी। लेकिन, इसकी पुष्टि हाल ही में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में की थी। सुषमा स्वराज ने कहा था कि उन्हें पता लगा कि टीले में कुछ शव हैं जिसके बाद भारत सरकार ने इराक सरकार के साथ मिलकर डीप पेनिट्रेशन राडार से सच्चाई का पता लगाने का फैसला किया। जब ये पुख्ता हो गया कि इसमें शव हैं, तब खुदाई करवाई गई जिसके बाद शव मिले।

उन सभी शवों का डीएनए टेस्ट कराया गया. 98 से 100 फीसदी तक सैंपल मैच हो गए तब विदेश मंत्री ने संसद में इसकी जानकारी दी। इराक में भवन निर्माता कंपनी के लिए काम करने गए 40 भारतीयों को मोसुल से आइएस के आतंकियों ने अगवा कर लिया था। उनमें से एक ने खुद को बांग्लादेशी मुसलमान बताया और बच निकलने में कामयाब रहा। शेष 39 भारतीयों को बादूश ले जाया गया और उनकी हत्या कर दी गई थी।