करना है हवाई सफर? मिल रही बंपर छूट

नई दिल्ली(7 सितंबर): विस्तारा और एयरएशिया ने मंगलवार को अपने किरायों में कटौती की। इन एयरलाइन कंपनियों के इस कदम से भारतीय सैलानियों को एक और बोनांजा मिलने का संकेत नजर आ रहा है। दूसरी एयरलाइन कंपनियां भी इस तरह की कटौती कर सकती हैं। विस्तारा जम्मू-श्रीनगर रूट के लिए 949 रुपये में टिकट बेच रही है।

- इसी तरह के दूसरे छोटे रूट्स पर भी डिस्काउंट मिल रहा है। विस्तारा की गोवा-मुंबई फ्लाइट का टिकट 1099 रुपये, दिल्ली-लखनऊ फ्लाइट का 1399 रुपये और गुवाहाटी-बागडोगरा का टिकट 1999 रुपये में मिल रहा है।

- कुछ लंबे रूट्स पर भी विस्तारा ने टिकटें सस्ती की हैं। दिल्ली-बेंगलुरु के लिए विस्तारा के टिकट 2399 रुपये में बुक किए जा सकते हैं। वहीं, देश के सबसे बिजी रूट दिल्ली-मुंबई का किराया 2299 रुपये है। विस्तारा के सस्ते टिकटों की बुकिंग 10 सितंबर तक कराई जा सकती है और लोग 12 सितंबर से 30 सितंबर तक इन पर यात्रा कर सकते हैं।

- आमतौर पर एयरलाइंस इन रेट्स पर बहुत कम टिकटें बेचती हैं। एयरएशिया इंडिया ने भी किरायों में कटौती की है। कोच्चि, गुवाहाटी, हैदराबाद और गोवा जैसे रूट्स पर टिकट 899 रुपये में मिल रहा है। एयरएशिया के सस्ते टिकटों की बुकिंग लोग 11 सितंबर तक करा सकते हैं और 6 फरवरी से 28 अक्टूबर 2017 के बीच यात्रा कर सकते हैं।

- विस्तारा, टाटा ग्रुप और सिंगापुर एयरलाइंस और एयरएशिया इंडिया टाटा ग्रुप और मलयेशिया की एयरएशिया बरहाद की जॉइंट वेंचर है। एयरएशिया ने कुआलालम्पुर, बैंकॉक, सिंगापुर, फुकेट, बाली और कराबी जैसे इंटरनैशनल डेस्टिनेशंस के लिए टिकटों का दाम घटाकर 3399 रुपये कर दिया है।

- एयरएशिया X अपने प्रीमियम लोकेशन जैसे कुआलालम्पुर, पर्थ, सिडनी, मेलबर्न और ऑकलैंड के लिए 12999 रुपये में टिकट दे रही है। ट्रैवल पोर्टल यात्रा के प्रेजिडेंट शरत ढल ने कहा, 'पिछले कुछ वर्षों के मुकाबले पिछले कुछ महीनों में एयर फेयर अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया है।'

- उन्होंने कहा, 'जहां विस्तारा सुस्त ट्रैवल पीरियड (12 सितंबर से 30 सितंबर 2016) को टारगेट कर रही है, वहीं एयरएशिया अगले साल (6 फरवरी से 28 अक्टूबर) ट्रैवल करने वाले सैलानियों को लुभा रही है। पहले से प्लान करने वाले ट्रैवलर्स के लिए यह बोनांजा है, जो कम खर्च में वैलेंटाइन डे, होली, रक्षा बंधन, ईस्टर और दूसरी छुट्टियों में दौरान हॉलिडे ब्रेक ले सकते हैं क्योंकि ये छुट्टियां वीकेंड के आसपास पड़ रही हैं।'