अमेरिका की शूटर ने जीता रियो में पहला गोल्ड मेडल

नई दिल्ली (6 अगस्त): अमेरिका की 19 वर्षीय वर्जिनिया थ्रेसर ने रियो ओलंपिक में पहला गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है। ब्राजील के रियो में हो रहे ओलंपिक में थ्रेसर ने 10 मीटर एयर राइफल में गोल्ड मेडल अपने नाम किया है। वर्जीनिया ने डियोडोरो शूटिंग वेन्यू पर हुए वीमेन्स 10 मीटर एयर राइफल टाइटल में चीन की ड्यू ली को फाइनल शॉट में मात दी।

इसी प्रतियोगिता में चीन की ली ड्यू ने सिल्वर मेडल हासिल किया है। वहीं, चीन की दूसरी खिलाड़ी यी सिलिंग ने कांस्य पदक अपने नाम किया है। वर्जीनिया ने 208 के स्कोर के साथ चीन की ली ड्यू से बढ़त हासिल कर यह उपलब्धि अपने नाम की है।

वहीं, भारत की अयोनिका पॉल और अपूर्ऴी चंदेला फाइनल राउंड में भी जगह नहीं बना सकीं। ओलिंपिक शूटिंग सेंटर में आयोजित क्वॉलिफिकेशन राउंड में अपूर्वी को 411.6 अंकों के साथ 34वें और अयोनिका को 403.0 अंकों के साथ 51 निशानेबाजों के बीच 47वें स्थान से संतोष करना पड़ा। आयोनिका ने 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में रजत जीता था।

 

राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण जीतने वाली अपूर्वी ने पहली सीरीज में 104.2, दूसरी सीरीज में 102.7, तीसरी सीरीज में 103.3 और चौथी सीरीज में 101.4 अंक हासिल किए। चीन की ली डियू ने 420.7 अंकों के साथ नया विश्व रेकार्ड कायम किया है।