कोहली को लेकर रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान, बताया...

नई दिल्ली(5 फरवरी): टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली शानदार फॉर्म में हैं। विराट के प्रदर्शन से प्रभावित भारतीय टीम के निदेशक रवि शास्त्री ने कहा कि यह विस्फोटक बल्लेबाज वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर विव रिचर्डस की छवि लगता है और अपने बल्ले को ऐसे चलाता है जैसे कोई तलवारबाज अपनी तलवार।

शास्त्री ने कहा कि कोहली की बल्लेबाजी के कुछ शाट्स मुझे विव रिचर्डस की याद दिलाते हैं। जैसे यह महान खिलाड़ी खेल के जिस भी प्रारूप में खेलता था, अपना दबदबा बनाये रखता था। इस तुलना को अनदेखा भी नहीं किया जा सकता क्योंकि रिचर्डस ने खुद कहा कि वह उन्हें इस भारतीय बल्लेबाज में अपनी थोड़ी सी छवि दिखती है, जिससे कोहली को भी विश्वास नहीं हुआ था।

शास्त्री के मुताबिक कोहली, रोहित शर्मा और शिखर धवन ‘दुनिया के तीन सर्वश्रेष्ठ’ खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा कि शिखर शीर्ष पर आक्रामकता दिखाने की कूव्वत है और एक बार वह जम जाये तो उसे रोकना मुश्किल है। रोहित बेहतरीन क्लास का क्रिकेटर है, वह विस्फोटक है। वहीं विराट विपक्षी टीम की गेंदबाजी की धज्जियां उड़ा देता है। वह अपने बल्ले का इस्तेमाल ऐसे करता है जैसे तलावरबाज अपनी तलवार चलाता है।

कोहली ने 2014 में इंग्लैंड के खराब दौरे के बाद वापसी करने का श्रेय शास्त्री को दिया था। पहले वह आफ स्टंप पर हर गेंद पर बल्ला लगाने की कोशिश करते थे लेकिन अब उन्होंने क्रीज के बाहर खड़े होकर, ‘मिडिल आफ गार्ड’ कर और अपने स्टांस में पैर की दूरी ठीक कर संतुलन बिठा लिया है।

शास्त्री ने इस बारे में कहा कि ये सब चीजें मामूली थीं. महत्वपूर्ण चीज यह थी कि वह इसकी कोशिश करने के लिये तैयार था। शास्त्री ने जोर दिया कि मौजूदा भारतीय टीम सिर्फ व्यक्तिगत खिलाड़ियों से कहीं ज्यादा मजबूत है तथा टेस्ट और टी20 रैंकिंग में दुनिया की सर्वश्रेष्ठ और वनडे रैंकिंग में दूसरे नंबर की टीम होने के पीछे भी एक कारण है।

उन्होंने कहा कि वे (टीम के खिलाड़ी) एक दूसरे की सफलता के लिये खेलते हैं और खेल के सभी तीनों विभागों में काफी बड़ा सुधार हुआ है। अगर मुझे इनमें से एक चीज चुननी हो जिसमें पिछले 14 महीने में सबसे ज्यादा सुधार हुआ है तो यह क्षेत्ररक्षण ही होगा। यह ऐसा विभाग है जिसमें हमने पिछले क्रिकेटिया इतिहास में ज्यादा तवज्जो नहीं दी।