विराट ने बनाए सबसे तेज 16000 रन, 20वीं टेस्ट सेंचुरी भी लगाई, दिल्ली टेस्ट में हासिल किए ये बड़े अचीवमेंट

नई दिल्ली ( 2 दिसंबर ): भारतीय टीम के कप्तान 9 साल के विराट कोहली ने अपनी बल्लेबाजी से एक और उपलब्धि हासिल कर ली है. विराट ने श्रीलंका के खिलाफ दिल्ली टेस्ट के पहले ही दिन एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. विराट ने अपने घरेलू मैदान कोटला पर आक्रामक बल्लेबाजी से श्रीलंकाई गेंदबाजों की जमकर खबर ली। उन्होंने 52 गेंदों पर 50 रन पूरे किए। इस दौरान 39 रन बनाते ही विराट ने इंटरनेशनल क्रिकेट में 16000 रन पूरे कर लिये।

इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे कम पारियों में 16000 रन पूरे करने के मामले में विराट सबसे तेज साबित हुए। विराट ने महज 350 पारियों में इस आंकड़े को छुआ। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के धुरंधर हाशिम अमला को पीछे छोड़ा, जिन्होंने 363 पारियों में इतने रन बनाए थे। जबकि ब्रायन लारा और सचिन तेंदुलकर ने क्रमश: 374 और 376 पारियों में ऐसा किया था। 

फिरोज शाह कोटला में खेले जा रहे मैच में कोहली ने 20वां टेस्ट शतक लगाया। 

कोहली के 8 अचीवमेंट

-इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे कम पारियों में 16000 रन

350 पारी- विराट कोहली

363 पारी- हाशिम अमला

374 पारी ब्रायन लारा

376 पारी- सचिन तेंदुलकर

-5000 रन बनाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज

सुनील गावस्कर 95 वीरेंद्र सहवाग    98 सचिन तेंदुलकर    103 विराट कोहली    105

-20th सेन्चुरी लगा वॉर्नर की बराबरी की - कोहली ने 20th सेन्चुरी बनाकर ऑस्ट्रेलियन बैट्समैन डेविड वॉर्नर की बराबरी कर ली। मौजूदा वक्त में जो बैट्समैन टेस्ट मैच खेल रहे हैं, उनमें कोहली और वॉर्नर से आगे स्टीव स्मिथ और इंग्लैंड के एलिएस्टर कुक हैं।

-एक साल में रन बनाने का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा विराट ने 2016 में तीनों फॉर्मेट को मिलाकर 2595 रन बनाए थे। श्रीलंका के खिलाफ सेन्चुरी लगाकर उन्होंने 2630 रन पूरे कर लिए। 

-कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले इंडियन  विराट एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले इंडियन बन चुके हैं। उन्होंने राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ा। जिन्होंने साल 1999 में 2626 रन बनाए थे। द्रविड़ को पीछे छोड़कर वे एक साल में सबसे ज्यादा रन (तीनों फॉर्मेट में) बनाने के मामले में दुनिया में छठे नंबर पर पहुंच गए हैं। उनसे आगे फिलहाल रिकी पॉन्टिंग हैं, जिन्होंने 2003 में 2657 रन बनाए थे।

-एक साल में सबसे ज्यादा सेन्चुरी बनाने वालों में तीसरे नंबर पर ये साल 2017 में विराट की तीनों फॉर्मेट को मिलाकर 11वीं सेन्चुरी रही। इसके साथ ही विराट एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा सेन्चुरी (तीनों फॉर्मेट) लगाने के मामले में दुनिया में तीसरे नंबर के बैट्समैन बन गए। विराट से आगे रिकी पोन्टिंग हैं, जिन्होंने साल 2003 में 45 मैचों में 11 सेन्चुरी लगाई थी। वहीं पहले नंबर पर सचिन तेंडुलकर हैं, जिन्होंने साल 1998 में 39 मैचों में 12 सेन्चुरी लगाई थी।

-श्रीलंका के खिलाफ सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने वाले दूसरे बैट्समैन तीनों फॉर्मेट को मिलाकर ये श्रीलंका के खिलाफ विराट के करियर की 13वीं सेन्चुरी रही। इतनी सेन्चुरी लगाने के लिए उन्होंने 59 मैच खेले। इसके साथ ही वे श्रीलंका के खिलाफ सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने वाले दुनिया के दूसरे बैट्समैन बन गए हैं। श्रीलंका के खिलाफ सबसे ज्यादा सेन्चुरी लगाने का रिकॉर्ड सचिन तेंडुलकर के नाम है। जिन्होंने 109 मैचों (तीनों फॉर्मेट) में 17 सेन्चुरी लगाई थीं।

तीन टेस्ट मैच की सीरीज में लगातार सेन्चुरी की हैटट्रिक लगाने वाले पहले कैप्टन विराट कोहली 3 टेस्ट की सीरीज के हर मैच में सेन्चुरी लगाने वाले दुनिया के पहले कैप्टन बन गए हैं। 5 मैचों की सीरीज में कई प्लेयर्स ने 3 या 4 सेन्चुरी लगाई है। लेकिन 3 मैचों में लगातार शतक जड़ने वाले कोहली पहले बैट्समैन बन गए हैं।