12 साल बाद कोहली के ऊपर होगा ये दबाव


नई दिल्ली (17 जुलाई): विराट कोहली टीम इंडिया के लिए 12 साल बाद एक बार फिर सीरीज जीत की हैट्रिक लगाना चाहते हैं। 19 जुलाई को टीम इंडिया श्रीलंका दौरे के लिए रवाना होगी। कप्तान विराट कोहली अमेरिका से छुट्टियां मनाकर वापिस लौट चुके हैं।

श्रीलंका में 26 जुलाई से पहला टेस्ट खेला जाएगा। विराट ने 2015 में श्रीलंका दौरे पर 2-1 से जीत हासिल की थी। 1993 के बाद पहली बार श्रीलंका में टीम इंडिया सीरीज जीतने में कामयाब हुई थी और अब श्रीलंका दौरे से विराट कोहली एक नया कर्तिमान रचने की कोशिश करेंगे। अगर विराट की अगुवाई में टीम इंडिया श्रीलंका के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज अपने नाम कर लेती है तो फिर साल 2004-05 के बाद ये पहला मौका होगा जब टीम इंडिया लगातार विदेशी जमीं पर 3 टेस्ट सीरीज बैक टू बैक जीतने में कामयाब होगी।

2004-05 में टीम इंडिया पहले पाकिस्तान, फिर बांग्लादेश और इसके बाद जिम्बाब्वे को हराने में सफल हुई थी। विराट की कप्तानी में टीम इंडिया श्रीलंका-वेस्टइंडीज को उसी के घर में हरा चुकी है और अब विराट कोहली विदेशी जमीं पर लगातार तीसरी सीरीज जीत कर हैट्रिक पूरी करना चाहेंगे। साथ ही विराट कोहली की कोशिश होगी कि कोच विवाद से टीम को बाहर निकाल कर एक नई शुरुआत करने की।

अनिल कुंबले के बाद रवि शास्त्री टीम इंडिया के नए कोच हैं। कुंबले के साथ जिस तरह कोहली का मतभेद खुलकर हर किसी के सामने आया उसका टीम पर नाकारात्म असर पड़ा है, जिससे टीम को बाहर निकालने की जिम्मेदारी अब विराट कोहली पर है। अब देखने वाली बात होगी कि श्रीलंका पर विराट कोहली किस अंदाज में चढ़ाई करते हैं। वैसे टीम इंडिया को श्रीलंका से इस बार बड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद कम है, लेकिन अपने घरेलू मैदान पर श्रीलंका के युवा खिलाड़ी बड़ा उलटफेर करने में कई बार कामयाब भी रही है। इसलिए कप्तान विराट कोहली को श्रीलंका दौरे पर सावधान रहने की जरुरत है।