तेंदलुकर के शतकों का रिकॉर्ड तोड़ देंगे कोहली!

देवांग दुबे, नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के बल्ले की इन दिनों चारों ओर चर्चा है। श्रीलंका के खिलाफ हाल ही में संपन्न हुई वनडे सीरीज में कोहली ने अपने वनडे करियर का 30वां शतक बनाया। सबसे ज्यादा वनडे शतकों के मामले में वह सचिन तेंदुलकर (49 शतक) के बाद रिकी पॉन्टिंग (30 शतक) की बराबरी पर आ गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉन्टिंग क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं इसलिए विराट कोहली और तेंदुलकर के रिकॉर्ड्स के बीच में अब कोई नहीं है। 

वनडे क्रिकेट में विराट कोहली का करियर महज 9 साल पुराना है और वो अभी कम से कम सात-आठ साल तो खेल ही सकते हैं। इसका वह जिक्र भी वह कर चुके हैं। तेंदुलकर ने कुल 463 मैच खेले और कुल 49 शतकों के साथ 18 हजार से भी ज्यादा रन ठोके। कोहली ने 195 मैचों में 8587 रन बनाए और 30 शतक ठोके। कोहली अगर इसी रफ्तार से खेलते रहे तो 390 मैच में 17,174 रन बनाएंगे। ऐसे में रन के मामले में वह सचिन से पीछे रहेंगे, लेकिन शतक के मामले में वह उनसे आगे हो जाएंगे। कोहली के 390 मैच के बाद 60 शतक होंगे। हालांकि जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है रिफलेक्सेस कमजोर होती, तो ऐसे में जरुरी नहीं है कि कोहली इसी रफ्तार से रन बनाएं। रन के मामले में वह जरुर सचिन से पीछे रहेंगे लेकिन शतक के मामले में तेंदुलकर से आगे निकल सकते हैं। 

79 मैचों में कोहली ने जड़े थे 9 शतक...

वनडे में सचिन का पहला शतक 79 पारियों के बाद आया था। इन 79 पारियों में उन्होंने 32.41 की औसत से 2,236 रन बनाए थे और उनका स्ट्राइक रेट था 78.48। उधर, 79 पारियों के बाद विराट कोहली के शतकों का आंकड़ा नौ तक पहुंच चुका था। यही नहीं, तब तक वे 47.57 की औसत से कुल 3,233 रन बना चुके थे और उनका स्ट्राइक रेट था 84.88।

30 शतक पूरा करने में सचिन से आगे हैं कोहली...

30 शतक का सफर तय करने में सचिन को कोहली से सौ मैच ज्यादा यानि 294 मुकाबले खेलने पड़े थे। पारियों के लिहाज से भी कोहली, सचिन से काफी आगे हैं। कोहली ने अपना 30वां शतक 186 पारियों में पूरा कर लिया। वहीं सचिन को 30 शतक ठोंकने में 267 पारियां लग गई थीं।

सचिन का तीसवां शतक साल 2001 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बना था। उस वक्त सचिन की उम्र भी कोहली के बराबर यानि 28 साल थी। लेकिन कोहली ने इस आंकड़े को छूने में सचिन से 100 मैच कम खेले।