INDvsAUS: ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को नहीं दी इनामी राशि, भड़के गावस्कर

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 जनवरी): ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे व फाइनल वनडे मैच में 7 विकेट से शानदार जीत दर्ज करने के साथ ही भारत ने वनडे सीरीज पर 2-1 से कब्जा जमा लिया। भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज के बाद लगातार दूसरी सीरीज जीतकर नया इतिहास रच दिया। शुक्रवार को मेलबर्न में खेले गए फाइनल मुकाबले में पहले युजवेंद्र चहल (6 विकेट) ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की परीक्षा ली और उसके बाद जब टीम लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो लगातार तीसरी बार धोनी के बल्ले से अर्धशतकीय पारी निकली और लगातार दूसरी बार वो टीम को जीत दिलाने में सफल रहे। 

इस शानदार जीत के बाद जब प्रेजेंटेशन सेरेमनी की बारी आई तो चहल को मैन ऑफ द मैच जबकि धोनी को सात साल बाद मैन ऑफ द सीरीज का खिताब मिला। हालांकि यहां एक चीज ऐसी हुई जिसको लेकर नाराज सुनील गावस्कर ने लाइव टीवी पर एतराज जता दिया। दरअसल, मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज के लिए चहल और धोनी को 500 यूएस डॉलर की इनामी राशि दी गई। जो कि तकरीबन 35,500 रुपये बनता है। इस प्राइज मनी को देखकर अचानक सुनील गावस्कर नाराज हो गए। गावस्कर ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) को निशाना बनाया। उनके मुताबिक जो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया स्पॉन्सरशिप से करोड़ों कमाता है वो इतने बड़े खिलाड़ी को कुल 35 हजार की इनामी राशि दे रहा है।

गावस्कर ने कहा, '500 डॉलर क्या होता है और ये शर्म वाली बात है कि टीम को सिर्फ ट्रॉफी दी गई। वे (आयोजक) ब्रॉडकास्ट राइट्स के जरिए कितना पैसा बनाते हैं तो वो खिलाड़ियों को अच्छी इनामी राशि क्यों नहीं दे सकते। आखिरकार वो खिलाड़ी ही तो हैं जिनके दम पर आप स्पॉन्सर्स से इतने पैसा कमा पाते हैं। विंबलडन (टेनिस चैंपियनशिप) की इनामी राशि देखिए, वो शानदार है।खिलाड़ियों की अहम भूमिका होती है इसलिए उन्हें अच्छा इनाम भी मिलना चाहिए।' महेंद्र सिंह धोनी ने फाइनल वनडे मैच में 114 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 87 रनों की पारी खेली जिसमें 6 चौके शामिल रहे। इससे पहले, सीरीज के पहले मुकाबले में उन्होंने 51 रन जबकि एडिलेड में खेले गए दूसरे वनडे मैच में नाबाद 55 रनों की पारी से सबका दिल जीतने के साथ-साथ सीरीज में बराबरी भी कराई थी