5 साल की तीरंदाज बच्ची ने बनाए ये दो नए रिकॉर्ड्स

नई दिल्ली ( 12 सितंबर ): चेरुकुरी डॉली शिवानी ने केवल 5 साल की उम्र में ही बड़ा कारनामा कर दिखाया है। रविवार को विजयवाड़ा की इस छोटी सी बच्ची ने दो रिकॉर्ड्स बनाए। शिवानी ने एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना शामिल कराया। डॉली ने पहला रिकॉर्ड 10 मीटर की दूरी से सिर्फ 11 मिनट और 19 सेकंड में 103 तीर छोड़े। उनका यह कारनामा कॉम्पाउडिंग धनुष और भारतीय तीरों के साथ किया।

बाद में उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में 20 मीटर की दूरी से 5 मिनट 8 सेकेंड में 36 तीर छोड़े। शिवानी ने इस प्रयास में 360 में से 290 अंक जोड़े।

एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने शिवानी के पिता चेरुकुरी सत्यनारायण को रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट दिया। भारतीय तीरंदाजी असोसिएशन के अधिकारी बी. श्रवण कुमार ने कहा, 'शिवानी का प्रदर्शन लाजवाब है। कोई किशोर तीरंदाज भी ऐसा नहीं कर सकता। 20 मीटर की दूरी से 250 स्कोर करना मुश्किल होता है और उसने आसानी से इसे हासिल कर लिया।

उन्होंने कहा कि इस उम्र में यह बड़ा कारनामा है। हम इसके लिए वोल्गा आर्चरी अकादमी को उसकी ट्रेनिंग के धन्यवाद कहते हैं। एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने शिवानी के पिता चेरुकुरी सत्यनारायण को रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट दिया। उनके पिता उन्हें 2024 ओलिंपिक के लिए तैयार करना चाहते हैं।