पॉलिटिकल फुटबॉल बन गया हूं: माल्या

नई दिल्ली(23 फरवरी): 9000 करोड़ रुपए का लोन लेकर देश से भागे विजय माल्या ने फॉर्मूला वन की अपनी टीम सहारा फोर्स इंडिया को लॉन्च किया। इसके बाद उन्होंने गुरुवार को ट्वीट कर इंडियन मीडिया, बीजेपी और कांग्रेस का बिना नाम लिए निशाना साधा।

- उन्होंने कहा, "इंडियन अथॉरिटीज के पास मुझे ब्रि‍टेन से भारत ले जाने के लिए कोई कानूनी आधार नहीं है। जब तक मैं दोषी करार नहीं दिया जाता, तब तक इस देश के कानून के तहत मैं सुरक्षित हूं।"

- उन्होंने कहा, "मुझे इलेक्शन स्पीच में देश की दो बड़ी पार्टियों ने पॉलिटिकल फुटबॉल बना दिया है।" बता दें कि माल्या पिछले करीब 1 साल से भारत छोड़कर लंदन में रह रहे हैं।

- 61 साल के विजय माल्या ने गुरुवार को कई ट्वीट किए। उन्होंने कहा, "यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि इंडियन मीडिया ने फॉर्मूला वन में भारत की एंट्री पर फोकस ही नहीं किया। जबकि यह देश के लिए गर्व की बात है।"

- "सहारा फोर्स इंडिया को लॉन्च कर मुझे गर्व महसूस हो रहा है। सहारा फोर्स इंडिया टीम पर इंडियन मीडिया के कमेंट्स से मैं दुखी हूं।"

- न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत में माल्या ने कहा कि वह भारत की दो प्रमुख पार्टि‍यों के बीच एक राजनीतिक‍ फुटबॉल बन गए हैं। उनको चुनावी स्पीच में यूज कि‍या जा रहा है।

- उन्होंने कहा, "मैंने एक रुपए का भी गलत इस्‍तेमाल नहीं किया है। सरकार, बैंक मुझे भारत की सबसे बड़ी एयरलाइंस की नाकामयाबी के लिए पर्सनली जि‍म्मेदार बनाने की कोशि‍श कर रहे हैं।"

- "मैं इन सब के खि‍लाफ कानूनी लड़ाई लड़ रहा हूं और लडूंगा। मेरा मानना है कि‍ उनके पास मेरे खि‍लाफ कोई केस नहीं है।"

- माल्या ने कहा, "यूके में रहने के लिए कानूनी और जुडिशियल डिटरमिनेशन की जरूरत है।"

- "उनके (इंडियन ऑफिशियल्स) पास जो भी सबूत है, उसके साथ उन्हें आने दें, हालांकि मुझे शक है कि उनके पास कोई सबूत होगा।"