भारतीय बैंकों के 9000 करोड़ के कर्ज़दार विजय माल्या का राज्यसभा से इस्तीफ़ा

 

नई दिल्ली (2 मई) :  भारतीय बैंकों के करीब 9 हजार करोड़ रुपए के कर्जदार विजय माल्या ने सोमवार को राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया। उद्योगपति माल्या इसी साल 2 मार्च को लंदन चले गए थे। माल्या ने राज्यसभा के चेयरमैन हामिद अंसारी को इस्तीफा भेजा और सदन की एथिक्स कमेटी को भी इस्तीफे की जानकारी दी।

माल्या ने अपना इस्तीफा कमेटी के नोटिस के जवाब में भेजा है। 25 अप्रैल को एथिक्स कमेटी के अध्यक्ष कर्ण सिंह ने कहा था, 'माल्या ने लगातार वारंट को नजरअंदाज करके गुनाह किया है, लेकिन फिर भी हम निष्पक्ष न्याय की प्रक्रिया के तहत सात दिनों का समय दे रहे हैं. अगर वह समय रहते पेश नहीं होते तो सदन जरूरी कदम उठाएगा।'

इससे पहले माल्या ने सुप्रीम कोर्ट के सामने 4000 करोड़ रुपए का कर्ज इस साल सितंबर तक लौटाने की पेशकश की थी जिसे बैंको ने ठुकरा दिया था। बता दें कि माल्या ने एक अंग्रेजी अखबार से यह भी कहा था कि 'अगर मेरा पासपोर्ट जब्त करने या मुझे गिरफ्तार करने से एक भी पैसा नहीं मिलेगा।'