Blog single photo

मिशेल के बाद अब माल्या की बारी

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद अब जल्द ही भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या का भी प्रत्यर्पण हो सकता है। लंदन की वेस्ट मिनिस्टर कोर्ट में इस मामले में आज अहम सुनवाई है

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 दिसंबर): अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद अब जल्द ही भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या का भी प्रत्यर्पण हो सकता है। लंदन की वेस्ट मिनिस्टर कोर्ट में इस मामले में आज अहम सुनवाई है। जिसके लिए CBI की टीम लंदन पहुंच चुकी है। अगर कोर्ट माल्या के प्रत्यर्पण की अनुमति देता है, तो इसके बाद मामला ब्रिटेन के होम डिपार्टमेंट के पास जाएगा। जहां से माल्या के प्रत्यर्पण की अनुमति पर फैसला होगा। हालांकि अगर फैसला माल्या के खिलाफ आता है तो वो ऊंची अदालत में इसे चुनौती भी दे सकता है।

सूत्रों के मुताबिक ईडी के दो अधिकारी भी सीबीआई अधिकारी के साथ हैं। मनोहर इससे पहले अस्थाना के नेतृत्व वाली एसआईटी का हिस्सा थे। मनोहर विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की जगह लेंगे, जो अब तक सुनवाई में शामिल हो रहे थे। सरकार ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा से विवाद होने के बाद अस्थाना को सभी अधिकारों से वंचित कर दिया तथा उन्हें छुट्टी पर भेज दिया था।माल्या बैंकों के 9,000 करोड़ रूपये के कर्ज की अदायगी नहीं करने के मामले का सामना कर रहा है। वह अपने खिलाफ सीबीआई के लुकआउट नोटिस को कमजोर किए जाने का फायदा उठाते हुए मार्च 2016 में ब्रिटेन भाग गया था। 

आपको बता दें कि पिछले दिनों विजय माल्या ने अपने कर्ज चुकाने के प्रस्ताव का अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदेबाजी मामले के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण का आपस में किसी तरह के लिंक से इनकार किया था। विजय माल्या ने ट्वीट करके फिर से बैंकों का कर्ज चुकाने का वादा किया। कहा कि प्लीज पैसे ले लीजिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह उन किस्सों को खत्म करना चाहते हैं कि वे बैंकों का पैसा लेकर भाग गए हैं। साथ ही माल्या ने अपने ट्वीट में कहा था कि, ‘मैंने एक रूपया भी उधार नहीं लिया। कर्ज किंगफिशर एयरलाइन ने लिया था। कारोबार के नाकाम होने पर यह धन डूबा। गारंटर होना धोखाधड़ी नहीं है।’

Tags :

NEXT STORY
Top