Blog single photo

चुनाव में धांधली पर ऐसे नजर रखेगा चुनाव आयोग

भारतीय चुनाव आयोग 2019 लोकसभा चुनाव से पहले हर मतदाता को भ्रष्टाचार के खिलाफ पुलिस की भूमिका निभाने की तैयारी कर रहा है। इस योजना को अमलीजामा पहनाने से पहले आयोग की एक टीम इस समय एक मोबाइल एप्लीकेशन पर काम कर रही है। जिसका नाम है ई-नेत्र।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 24 जून ): भारतीय चुनाव आयोग 2019 लोकसभा चुनाव से पहले हर मतदाता को भ्रष्टाचार के खिलाफ पुलिस की भूमिका निभाने की तैयारी कर रहा है। इस योजना को अमलीजामा पहनाने से पहले आयोग की एक टीम इस समय एक मोबाइल एप्लीकेशन पर काम कर रही है। जिसका नाम है ई-नेत्र। अगर कोई नेता आचार संहिता का उल्लंघन करता है या पैसा या शराब बांटने की कोशिश या फिर भड़काउ भाषण देता है तो कोई भी शख्स ऐप के जरिए उसकी शिकायत कर सकता है। सबूत के तौर पर फोटो या वीडियो भी अपलोड करनी होगी।मुख्य चुनाव आयुक्त ओम प्रकाश रावत ने इकॉनमिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में यह बात कही है। उन्होंने बताया, 'हमारे आईटी विभाग ने अगले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एक ऐप तैयार की है। इस ऐप को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर चार राज्यों (राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम) में होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रयोग किया जाएगा।' उन्होंने बताया कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान बेंगलुरु नगर निगम ने चुनाव आयोग के लिए ऐसी ही ऐप बनाई थी लेकिन वह चुनाव से कुछ समय पहले ही आ पाई थी।चुनाव तक केवल 800 लोगों ने इस ऐप को डाउनलोड किया था। एक महीने के अंदर आयोग नई ऐप को लॉन्च करने वाला है। उन्होंने भरोसा जताया कि लाखों लोग इस ऐप के जरिए आयोग की मदद का काम करेंगे। इस ऐप की मदद से कोई भी शख्स उस अमूक घटना को रिकॉर्ड करके चुपचाप भेज सकता है। वीडियो अपलो़ड किए बिना भी शिकायत की जा सकती है। मगर आयोग को पर्याप्त सबूतों की जरूरत होगी।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top