झगड़ने वाले डॉक्टरों को HC की फटकार, कलेक्टर को दिए कार्रवाई के आदेश

नई दिल्ली ( 30 अगस्त ): राजस्थान के जोधपुर शहर में एक सरकारी अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में गर्भवती महिला की सी-सेक्शन सर्जरी के दौरान दो डॉक्टर आपस में लड़ने लगे. डॉक्टरों के झगड़े के चलते महिला के ऑपरेशन में देरी हुई और उसके नवजात की मौत हो गई.  इस झगड़े का एक वीडियो भी वायरल हुआ है जिसमें दोनों डॉक्टर लड़ते नजर रहे हैं.

वीडियो वायरल होने के बाद राजस्थान हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए मामले की रिपोर्ट से मांगी है। साथ ही अस्पताल प्रशासन से रिपोर्ट के आधार पर कलेक्टर को कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

रिपोर्ट पेश होने के बाद अदालत ने कलेक्टर को 4 सिंतबर तक का वक्त देते हुए दोषी डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए कोर्ट को बताने के लिए कहा है। अदालत ने आदेश देते हुए कहा कि डॉक्टरों की इस हरकत की वजह से जोधपुर और मेडिकल प्रोफेशन की छवि धूमिल हुई है। यह रिपोर्ट दोपहर दो बजे तक पेश करनी थी। उधर चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ का कहना है कि इस मामले में दोषी डाॅक्टरों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

राजस्थान के जोधपुर से जो वीडियो सामने आया है, उससे पूरी डॉक्टर बिरादरी शर्मसार हो गई है। यहां एक प्रेग्नेंट महिला का ऑपरेशन किया जा रहा था। महिला गर्भवती थी, लेकिन बच्चे की पेट में ही मौत हो गई। ऐसे में जल्द से जल्द ऑपरेशन करना जरूरी था। महिला को जोधपुर के उम्मेद हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। 

वहां ऑपरेशन टेबल पर सर्जरी हो रही थी, तभी दो डॉक्टर किसी बात पर आपस में झगड़ने लगे। दोनों ने मरीज को छोड़कर एक-दूसरे से बहस करना शुरू कर दिया। इस दौरान आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग भी हुआ। झगड़ने वाले डॉक्टरों के नाम महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. अशोक नैनीवाल और एनेस्थीसिया इंचार्ज डॉ. एमएल टाक बताए गए हैं।

यह वीडियो सामने आने और वायरल होने के बाद अस्पताल प्रबंधन हरकत में आया है। अस्पताल की अधीक्षक रंजना देसाई ने इस घटना को बेहद शर्मनाक बताते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

देखें वीडियो