औरंगाबाद: 8 लाख का बिजली बिल देख शख्स ने दी जान

औरंगाबाद(11 मई): एक सरकारी कर्मचारी की लापरवाही ने एक शख्स की जान ले ली। बिजली मीटर रीडिंग चढ़ाने में हुई चूक के चलते तैयार 8.6 लाख रुपये का बिल जब एक सब्जी वाले को थमाया गया तो उसको बड़ा झटका लग गया। इतनी बड़ी रकम देख वह हताश हो गया और फांसी लगाकर उसने जान दे दी।महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 40 साल के जगन्नाथ शेलके को अप्रैल महीने के लिए 8.6 लाख रुपये का बिजली का बिल मिला। उन्हें यह बिल उसे दो कमरे के टीन के छप्पर वाले घर के लिए मिला, जिसमें वह पिछले 20 साल से अपने परिवार के साथ रह रहे थे।बिल के मुताबिक उन्होंने 55,519 यूनिट बिजली की खपत की थी। बिल देखकर घबराए जगन्नाथ ने गुरुवार सुबह फांसी लगाकर जान दे दी। उन्होंने सूइसाइड नोट में यह लिखा है कि उन्होंने इतना बड़ा बिल देखने के बाद अपनी जान देने का फैसला किया है।उधर मामले में कार्रवाई करते हुए महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड (एमएसईजीसीएल) ने उस क्लर्क को सस्पेंड कर दिया है जिसकी गलती के कारण ऐसा हुआ। क्लर्क ने मीटर रींडिग्स 6,117.8 KWH की जगह 61,178 KWH लिख दीं। इस कारण जगन्नाथ का बिल 8,64,781 रुपये बन गया। पुलिस ने फिलहाल ऐक्सिडेंटल डेथ का केस दर्ज किया है।