मंत्री ने दिव्यांगों का किया अपमान, 'भारत में सबसे ज्यादा लूले-लंगड़े'

नई दिल्ली ( 29 जून): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विकलांगों के प्रति सम्मान जताते हुए देश में उन्हें विकलांग की जगह "दिव्यांग" कहना शुरू कर दिया है। असर ये है कि आज हर कोई इसी शब्द का इस्तेमाल करता है, लेकिन राजस्थान में ऐसा नही है।


दरअसल राजस्थान के उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत गुरुवार को एक सरकारी कार्यक्रम में शरीक होने पहुंचे। वहां उन्होंने देश की 70 सालों में भी कोई उन्नति न होने की बात कही। राजपाल सिंह ने कार्यक्रम में भारत को दुनिया का सबसे गरीब देश बताते हुए कहा कि देश की आजादी के 70 साल बाद भी दुनिया मे सबसे गरीबी के लिए जिस देश का नाम आता है वो हिंदुस्तान।


मंत्री जी यहीं नहीं रुके वो देश को सबसे गरीब बताने के बाद देश के दिव्यांगों के लिए बोले कि दुनिया में सबसे ज्यादा लूले-लंगड़े लोग जिस देश में हैं उस देश का नाम है भारत। ऐसे में जिन विकलांगों को देश में प्रधानमंत्री ने विकलांग कहना बंद करवा कर उन्हें दिव्यांग नाम दिया राजस्थान के मंत्री राजपाल सिहं दिव्यांगों को विकलांग ना कहकर उन्हें लूला-लंगड़ा कहकर अपमानित कर रहे हैं।