120 किमी/घंटे की रफ्तार से तट से टकराया वरदा तूफान

नई दिल्ली(12 दिसंबर): तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में वरदा तूफान का खतरा मंडरा रहा है। प्रशासन ने तूफान को लेकर पहले ही अलर्ट जारी कर दिया है। सरकार ने भी वरदा तूफान से निपटने के इंतजाम पूरे कर लिये हैं। 

खबर है कि कुछ ही देर बाद वरदा तटीय इलाकों तक पहुंच सकता है। अभी तटीय इलाकों में 80 ,से 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही है। हालांकि तूफान से पहले ही इन इलाकों में बारिश शुरु हो चुकी है। एहतियातन एनडीआरएफ की टीम को तैनात कर दिया गया है। साथ ही अगले 48 घंटों तक मछुआरों को समंदर से दूर रहने की सलाह दी गई है। वहीं चेन्नई, कांचीपुरम और तिरुवलूर समेत तटीय इलाकों के सभी स्कूल-कॉलेजों की आज छुट्टी कर दी गई है।

- 110-120 किलोमीटर/ घंटे की रफ्तार से तट से टकराया वरदा तूफान।

- चेन्नै तट से टकराया वरदा चक्रवातीय तूफान। तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश।

- केंद्र सरकार, राज्य सरकारें और सभी संबंधित एजेंसियां अलर्ट पर हैंः केंद्रीय मंत्री हर्षवर्द्धन

- चेन्नै में लगभग 300 जगहों पर पेड़ उखड़ गए हैं।

- 3 बजे तक चेन्नै एयरपोर्ट से सभी फ्लाइट्स रद्द की गईं।

- वरदा तूफानः नौसेना के एयरक्राफ्ट भी नेवल एयर स्टेशन पर तैयार हैं। एक सर्वे शिप बंदरगाह पर नजर रखने के लिए तैयार है।

- गोताखोरों की 10 टीमें नौसेना के दो पोतों पर तैयार हैं और 6 टीमें तैनात की गई हैं। विशाखापट्टनम में गोताखोरों की 22 टीमें तैयार हैं।

-वरदा तूफान चेन्नै से मात्र 50 किलोमीटर की दूरी पर हैः NDMA

-चक्रवात की वजह से इस समय हवाओं की गति 120-130 किलोमीटर प्रतिघंटे की है। यह बढ़ भी सकती है।

- आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों में अगले 36 घंटों तक मछुआरों को समुद्र की तरफ न जाने की हिदायत दी गई है।