बेटे से परेशान होकर महिला डॉक्टर मां ने की खुदकुशी


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 17 नवंबर ): वाराणसी में एक महिला डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली है। वाराणसी में अर्दली बाजार के महाबीर मंदिर चौराहे के पास महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. शिल्पी राजपूत ने गुरुवार देर रात आत्महत्या कर ली। शुक्रवार की सुबह 10.30 बजे उनसे मिलने पहुंची चचेरी बहन ने डॉक्टर को बेहोश पाया। वह उन्हें लेकर पास के निजी अस्पताल में गईं जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला है जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। उनका शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी है।
बताया जा रहा है कि महिला डॉक्टर अपने बेटे के हरकतों से परेशान थी। डॉक्टर शिल्पी राजपूत ने गुरुवार की देर रात करीब 1:30 बजे सुसाइड नोट लिखा। इसमें लिखा है कि मैंने पति डॉक्टर डीपी सिंह के साथ 17 साल बिताया, जो एक हैवान था। मेरा बेटा उमंग सिंह क्रिमनल ऐटीच्यूट का है। मुझे मारकर वह संपत्ति पर कब्जा करना चाहता है। डॉक्टर शिल्पी राजपूत के ड्राइवर ने बताया कि, कल रात मैडम ने बुलाया था। ऊपर गया तो मैडम ने कहा अच्छा नहीं लग रहा है। कंबल ले लो नीचे चलूंगी। वह अपने चैंबर में गईं और एक गिलास पानी मांगा। बोलीं- तुम लोग चले जाओ। सुबह दस बजे तक सोती हैं। उनकी चचेरी बहन निक्की आई, तो आज 10:30 बजे किसी तरह दरवाजा खोला गया तो वह मृत पड़ी थीं।
आपको बता दें कि सरकारी चिकित्सक डॉक्टर डीपी सिंह की एक दशक पहले 13 सितम्बर 2007 को पांडेयपुर इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उस मामले में डॉक्टर शिल्पी राजपूत पर पति की हत्या की साजिश रचने के आरोप में 6 अन्य लोगों के साथ जेल भी हुई थी। बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी और वह रिहा हो गयी थीं। पुलिस केस का स्टेटस निकलवा रही है।

ज्यादा जानकारी के लिए देखिए न्यूज 24 की ये खास रिपोर्ट...