उत्तरकाशी बस हादसा: पीएम मोदी ने मृतकों के परिजन को 2 लाख देने का किया ऐलान

नई दिल्ली(24 मई): इंदौर के यात्रियों से भरी बस गंगोत्री धाम से लौटते वक्त गंगोत्री हाईवे पर नालूपानी के पास भागीरथी नदी में गिर गई। हादसे में 21 यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई। सात लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। इन्हें उत्तरकाशी के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल और अन्य जगहों पर भर्ती कराया गया है। दो का पता नहीं चल सका है। पीएम नरेंद्र मोदी ने मृतकों के परिजन को 2 लाख और गंभीर रूप से जख्मी हुए लोगों को 50 हजार रु. की मदद का एलान किया है।

 जानकारी के मुताबिक इंदौर की यह बस 12 मई को बेटमा से निकली थी, जिसमें नालछा और बेटमा के पैसेंजर थे। मंगलवार सुबह गंगोत्री धाम के दर्शन करने के बाद मप्र के 57 यात्रियों का दल 2 बसों में सवार होकर केदारनाथ धाम जा रहा था। एक बस में ड्राइवर-कंडक्टर समेत 31 तो दूसरी बस में 30 यात्री थे। दोनों बसें आगे-पीछे चल रही थीं। शाम करीब छह बजे 30 यात्रियों से भरी बस उत्तरकाशी से 25 km दूर ऋषिकेश की ओर गंगोत्री हाईवे पर नालूपानी में बेकाबू होकर 300 मीटर गहरी खाई में गिर गई। कुछ यात्री भागीरथी नदी में गिरे। उत्तराखंड में गंगा को भागीरथी कहा जाता है।

- मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपए की मदद देने का एलान किया है।