गोरखपुर हादसा: योगी सरकार पर भड़के RSS नेता

नई दिल्ली(16 अगस्त): उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में सरकारी अस्पताल में बच्चों की मौत को लेकर आरएसएस के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने योगी आदित्यनाथ सरकार की कड़ी निंदा की है। 

- अवध क्षेत्र के आरएसएस प्रांत संघचालक, प्रभु नारायण ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा है, 'इस मामले में कानूनी कार्यवाही में चाहे जो भी दोषी साबित हो, राज्य सरकार नैतिक जिम्मेदारी से नहीं बच सकती। इसके लिए राज्य सरकार के सभी मंत्रियों और उत्तर प्रदेश में बीजेपी संगठन के सदस्यों को प्रायश्चित करना चाहिए।'

- नारायण ने अपनी फेसबुक पोस्ट में राज्य सरकार से एक 'प्रायश्चित दिवस' आयोजित करने को कहा है। उन्होंने लिखा है, 'जांच के बाद केवल कुछ लोगों को बलि का बकरा बनाने से उद्देश्य पूरा नहीं होगा।' 

- उन्होंने कहा कि वह गोरखपुर के हादसे के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह की ओर से की गई टिप्पणियों से आहत हैं। 

- उनका कहना था, 'यह सही है कि मौजूदा मुख्यमंत्री के इरादे अच्छे हैं, लेकिन संवाददाता सम्मेलन में पिछली मृत्यु के आंकड़े देना ठीक नहीं था। उसमें सिर्फ आंकड़ों का खेल हुआ और संवेदनशीलता नजर नहीं आई।'

- नारायण ने कहा कि वह किसी मंत्री का इस्तीफा नहीं मांग रहे हैं और उनके विचार राजनीतिक भी नहीं हैं। उनका कहना था, 'यह वास्तविकता है कि देश में बीजेपी के अलावा कोई राजनीतिक विकल्प नहीं है। हम चाहते हैं कि बीजेपी को नुकसान न हो। सरकार में हमारे लोग बहुत साधारण और स्पष्ट हैं। इस वजह से मेरा मानना है कि इस मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन अनुभवी अधिकारियों को करना चाहिए था। अगर हमारे राजनेता और मंत्री इस पर बोलते हैं तो उनकी संवेदनशीलता और दर्द जनता के सामने आना चाहिए।'