सड़क पर उत्पात मचाने वाला पूर्व मंत्री का बेटा गिरफ्तार

UPKAR

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली( 29 जून): हजरतगंज में सपा के पूर्व मंत्री स्व. रामलखन वर्मा के बेटे उपकार सिंह पटेल ने शराब के नशे में धुत होकर खूब हंगामा किया। नशे की हालत में वह बहुखंडी स्थित दोस्त के ऑफिस पहुंचा और मारपीट करके उसे लहुलुहान कर दिया है। वहां से बाइक लेकर भागा तो लोगों ने खदेड़ लिया। 

नरही में पुलिस को वाहन चेकिंग करते देख बाइक छोड़कर वह पैदल घर पहुंचा और कार लेकर निकला। लहराते हुए कार चलाकर उसने कई लोगों को टक्कर मार दी। गुस्साए लोगों ने उसे दबोच लिया और कार तोड़ डाली। इस बीच पीछे से आए नरही चौकी इंचार्ज भूपेंद्र सिंह ने उसे भीड़ के चंगुल से बचाकर थाने पहुंचाया। 

इंस्पेक्टर राधारमण सिंह ने बताया कि उपकार सिंह प्राग नारायन रोड पर रहता है। वह अक्सर शराब पीकर मां से मारपीट करता है। शुक्रवार शाम भी उसने नशे की हालत में मां को पीट दिया। इस दौरान उसका दोस्त व पूर्व छात्र नेता संजीत सिंह पटेल वहां आ गया। उसने मां को उपकार के चंगुल से बचाया। दोनों के बीच इस बात को लेकर कहासुनी भी हुई।

 शाम करीब सात बजे वह बाइक से नशे की हालत में बहुखंडी स्थित संजीत सिंह पटेल के ऑफिस पहुंचा और झगड़ने लगा। उसने संजीत की उंगली दांत से काट ली और लाइसेंसी पिस्तौल निकालकर गोली मारने की धमकी दी। ऑफिस में मौजूद लोगों ने उसे पकड़ लिया। उपकार वहां से बाइक लेकर भागते हुए नरही पहुंचा, जहां चौकी प्रभारी भूपेंद्र सिंह वाहन चेकिंग कर रहे थे।पुलिस को देखकर उपकार ने बाइक छोड़ दी और पैदल ही घर की तरफ भागने लगा। वह घर पहुंचा और कार निकालकर फिर सड़क पर दौड़ाने लगा। जॉपलिंग रोड पर नशे की हालत में लहराती कार से कुछ राहगीरों को टक्कर लग गई। उपकार ने कार रोकी तो लोगों ने घेर लिया। उसकी कार तोड़ डाली। 

उधर, नरही चौकी इंचार्ज बाइक के नंबर के आधार पर उसे तलाशते हुए जॉपलिंग रोड पहुंचे तो हंगामा होते देख रुक गए। वह भीड़ के शिकंजे में फंसे उपकार को लेकर थाना आए। इंस्पेक्टर ने बताया कि उपकार के खिलाफ संजीत की तरफ से केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। इससे पहले भी उपकार ने नशे की हालत में कार दौड़ाई थी, जिसमें कई लोगों को चोटें आई थीं।