Blog single photo

शाहजहांपुर दुष्कर्म मामला: चिन्मयानंद की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आज होगी रिमांड पेशी

यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री चिन्मयानंद की आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रिमांड पेशी होगी। इससे पहले तीन अक्तूबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चिन्मयानंद ही हुई थी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 अक्टूबर): यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री चिन्मयानंद की आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रिमांड पेशी होगी। इससे पहले तीन अक्तूबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चिन्मयानंद ही हुई थी। आपको बता दें कि अपने ही लॉ कॉलेज की छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में चिन्मयानंद 20 सितंबर से जेल में बंद हैं। छात्रा आरोप पर चिन्मयानंद के खिलाफ धारा 376-सी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं चिन्मयानंद के वकील की ओर से छात्रा के दोस्तों के खिलाफ पांच करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का केस दर्ज कराया गया है। जिसमें छात्रा के साथ-साथ उसे मदद करने वाले संजय सिंह, विक्रम सिंह और सचिन सेंगर का नाम शामिल है। चिन्मयानंद, छात्रा और तीनों युवक फिलहाल शाहजहांपुर जिला जेल में बंद हैं। 

इन सबके बीच चिन्मयानंद पर जांच का शिकंजा कसता जा रहा है। लखनऊ की फोरेंसिक साइंस लैबोरेट्री ने केंद्रीय मंत्री रह चुके चिन्मयानंद और आरोप लगाने की वाली लड़की के वॉयस सैंपल लिए हैं। इसके अलावा, रंगदारी वसूलने की कोशिश करने के आरोप में शाहजहांपुर जेल में बंद तीन आरोपियों के भी सैंपल लिए गए हैं। सभी पांच लोगों के सैंपल लखनऊ में लिए गए। इस मामले की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम कर रही है। दरअसल, पूरे प्रकरण में कई वीडियो वायरल हुए थे। इन वीडियो में स्वामी चिन्मयानंद व विधि छात्रा के बीच संवाद के अलावा अलावा तीन युवकों की आवाजें भी हैं। बताया गया कि एसआइटी जांच के दौरान आरोपित वायरल वीडियो में अपनी आवाजों को लेकर सवाल उठा चुके हैं। यही कारण है कि एसआइटी वायरल वीडियो की आवाजों के पुख्ता वैज्ञानिक साक्ष्य जुटा रही है, जिससे कोर्ट में उन्हें चुनौती न दी जा सके।

गौरतलब है कि लॉ की छात्रा से दुष्कर्म और यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद चिन्मयानंद के कुछ आपत्तिजनक वीडियो 10 सितंबर को वायरल हुए थे। उसी दिन शाम को एक और वीडियो वायरल हुआ था, जो चिन्मयानंद से रंगदारी मांगे जाने के मामले से संबंधित बताया जा रहा है। इसमें छात्रा और उसके दोस्त संजय के अलावा सचिन व विक्रम की बातचीत भी है। वहीं, इससे जुड़ा एक और वीडियो 26 सितंबर को वायरल हुआ था। एसआइटी ने वायरल वीडियो से पांचों की आवाज मिलान के लिए रिमांड मांगी थी, जिस पर कोर्ट ने चार अक्टूबर को अनुमति दे दी थी।

(Image Credit: Google)

Tags :

NEXT STORY
Top