मेरठ: राज्यमंत्री बता बेरोजगार युवकों को ठगने वाला पुलिस के शिकंजे में



नई दिल्ली(16 अप्रैल): मेरठ के रेलवे रोड थाना पुलिस ने ऐसे जालसाज को गिरफ्तार किया है जो खुद को दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री बताकर बेरोज़गार युवको से ठगता था। पकड़े गए आरोपी का नाम रिहान खान है।


- रिहान खुद को उत्तर प्रदेश वन निगम का सदस्य बताकर लालबत्ती लगी कार में घूमता था।


- आरोपी रिहान ने मेरठ, बिजनौर समेत कई जनपदों में बेरोज़गार युवको को नौकरी दिलाने के नाम पर कई लाख रुपये ऐंठ चूका है ।


- आरोपी रिहान अपना दफ्तर भटीपुरा में बना रखा था। समाजवादी पार्टी के रंग में रंगे कार्यालय पर उसने अपना, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव का फोटो लगा रखा था।


- रिहान के खिलाफ 12 अप्रैल को शामली के आदर्श मंडी थाना क्षेत्र निवासी बादल देशवाल ने धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था।


- बादल को माध्यमिक शिक्षा विभाग में लिपिक पद पर नियुक्त कराने का झांसा देकर चार लाख रुपये ऐंठते हुए रिहान ने उसे फर्जी नियुक्ति पत्र जारी भी कर दिया। जांच में यह पत्र फर्जी पाया गया। जिसके बाद पुलिस ने यह केस दर्ज करते हुए रिहान की तलाश शुरू की।


- पुलिस हिरासत में होने के बाद भी जालसाज़ रिहान खुद को मंत्री बता रहा है | थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी रिहान श्यामनगर इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया है। मेरठ और बिजनौर के कई थानों में भी रिहान पर मुकदमे दर्ज हैं। सभी मुकदमों की हिस्ट्री निकलवाई जा रही है।