मेरठ में अतिक्रमण हटाने को लेकर बवाल, उपद्रवियों ने 150 से ज्यादा झुग्गियों में लगाई आग

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (7 मार्च): उत्तर प्रदेश के में उपद्रवियों ने कल जमकर कोहराम मचाया। अतिक्रमण हटाने को लेकर एक समुदाय के लोग भड़क गए। उग्र भीड़ ने पुलिस को पीटा और दिल्ली रोड पर पथराव जमकर पथराव किया। वहीं कुछ असामाजिक तत्वों ने झुग्गियों में आग लगा दी। और देखते ही देखते आसपास की 150 से ज्यादा झुग्गियां जलकर राख हो गईं। धमाके के साथ कई सिलिंडर फटने से आग और भयावह हो गई।उग्र भीड़ ने दिल्ली रोड पर रोडवेज बसों और निजी वाहनों में तोड़फोड़ व जमकर लूटपाट की। घटना के दौरान भीड़ पर फायरिंग करने का आरोप लगाया जा रहा है। वहीं भीड़ ने पुलिस पर बस्ती में आग लगाने का आरोप लगाया है।  इसके बाद भीड़ ने सड़क पर आकर जमकर बवाल मचाया। कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई और लूटपाट की भी कोशिश हुई। पुलिस ने एहतियातन दिल्ली रोड पर वाहनों का रूट डायवर्ट कर दिया। घंटाघर पर व्यापारियों ने अफवाह के चलते दुकाने बंद कर दी। तनाव के चलते पूरे शहर में पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है।पूरा मामला मेरठ के सदर थाना क्षेत्र की भूसा मंडी इलाके का है। बताया जा रहा है कि यहां  कैंटोनमेंट बोर्ड की टीम और सदर थाने की पुलिस अवैध निर्माण हटाने गई थी। लेकिन कुछ लोगों ने अतिक्रमण हटाने का विरोध किया और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। कुछ लोगों ने वहां से गुजर रही एक बस में तोड़फोड़ कर आगजनी का प्रयास किया। बवाल को बढ़ता देख मौके पर भारी पुलिस बल को बुलाना पड़ा।बाद में डीएम और एसएसपी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। स्थिति को संभाला लेकिन अभी भी तनाव बना हुआ हैं। डीएम अनिल ढींगरा का कहना है कि स्थिति नियंत्रण में हैं और सुरक्षा बढ़ा दी गई है। आसपास के जिलों से दमकल वाहन बुलाकर आग पर काबू किया जा रहा है। घटना के लिए जांच टीम गठित कर दी है। एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार का कहना है कि मेरठ की घटना एक हादसा है। अफसर मौके पर स्थिति पर नियंत्रण रखे है।