यूपी में शादी का रजिस्ट्रेशन कराना हुआ जरूरी


नई दिल्ली (1 अगस्त): यूपी की योगी सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए प्रदेश में सभी शादियों के रजिस्ट्रेशन को अनिवार्य कर दिया है। इसके अलावा सरकार ने उद्योगों को रियायती दर पर डीजल, नैचुरल गैस देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

यूपी में अनिवार्य विवाह पंजीकरण नियमावली को भी मंजूरी दे दी गई है। इसके तहत यूपी मे शादी करने वालों को रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य हो गया है। सरकार ने विलंब से पंजीकरण कराने वालों पर जुर्माना लगाने का निर्णय लिया है। जो जितने विलंब से पंजीकरण कराएगा, उसे उतना अधिक जुर्माना देना होगा। महिला कल्याण विभाग की तरफ से ये प्रस्ताव तैयार किया गया है, जिस पर मंगलवार को योगी कैबिनेट ने मंजूरी दे दी।

जानकारी के अनुसार जीएसटी लागू होने के बाद दाम बढ़ गए थे। इसके अलावा कैबिनेट ने वाणिज्य कर विभाग के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है। इसके अलावा कैबिनेट ने खनन नियमावली को मंजूरी दे दी है। खनन नीति के तहत हो रहे खनन की नियमावली को मंजूरी दी गई।