बनारस में बटेंगी मेड इन चाइना साइकिल, PM मोदी के नारों की उड़ी धज्जियां

वाराणसी(21 जनवरी): प्रधानमंत्री की कुर्सी पर विराजमान होने के बाद नरेंद्र मोदी ने देश को दिशा देने वाला नारा दिया है मेक इन इंडिया। लेकिन सरकार का मंत्रालय ही उसे जुमला बनाने पर तुला है। 

सरकार की सोच और प्रधानमंत्री के सपने की पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में ही धज्जियां उड़ने वाली है। बनारस में खुद देश के प्रधानमंत्री के हाथों से मेड इन चाइना का माल बंटने वाला है। मेक इन इंडिया के नारे की खुद मोदी सरकार के मंत्रालय ने फजीहत करवा दी है। मेक इन इंडिया का नारा गढ़ने वाले मेड इन चाइना के भरोसे हैं। खुद प्रधानमंत्री अपने हाथों से मेड इन चाइना वाला माल बांटने वाले हैं मतलब अपने नेता के नारे का ही बेड़ा गर्क कर दिया है सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने।

दरअसल 22 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी बनारस जा रहे हैं। अपने संसदीय क्षेत्र में शारीरिक तौर पर अक्षम लोगों को ट्राई साइकिल हियरिंग मशीन और व्हील चेयर बांटेगे और इस आयोजन के लिए चाइना से ट्राई साइकिल मंगाए गए हैं। इससे ज्यादा हद क्या हो सकती है कि मेक इन इंडिया वाले मेड इन चाइना का माल बांटेगे।

मतलब भारत के सारे साइकिल निर्यातक मुंह ताकते रह गए और चाइना अपना माल बेच गया। मेड इन इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, स्किल इंडिया। सारा गया सियासत के चूल्हे में। बेचता होगा हीरो दुनिया के 56 देशों में साइकिल। बनाते होंगे एवन वाले, एटलस वाले, हरक्यूलिस वाले। चाइना के आगे कोई नहीं है टक्कर में। ना रहें हम चक्कर में। पता नहीं चाइना का माल बांटकर प्रधानमंत्री कैसे करेंगे मेक इन इंडिया की बात। स्किल इडिया की बात...स्टार्टअप इंडिया की बात..।

कोई 50 ट्राईसाइकिल आए हैं चाइना से। इंग्लैंड में इनकी डिजाइनिंग हुई है और बने हैं चीनी गणराज्य की गलियों में। जो चलाए जाएंगे भारत के निर्माणाधीन क्योटो में। भारत के प्रधानमंत्री इन्हें अपने हाथों से लोगों के बीच बांटेगे। 

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=-L5fWZkznJI[/embed]