लखनऊ में डबल मर्डर से सनसनी, आरोपी फरार

लखनऊ(28 जनवरी): उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर बुजुर्ग दंपत्ति की हत्या से सनसनी मच गई है। शुरुवाती जांच में पुलिस इस हत्या के पीछे लूटपाट की बात से इंकार कर रही है। 

 75 साल के कृष्णदत्त पांडे और 65 साल की माधुरी पांडे की हैं । दोनों बुजुर्गों की किसी ने उन्हीं के घर में घुसकर हत्या कर दी। हत्या करने के तरीके से तो ऐसा लगता है जैसे कातिल दोनों से बहुत नफरत करता था और दोनों से किसी बात का बदला लेने आया।  

मौके पर पहुंची पुलिस के मुताबिक दोनों बुजुर्गों को पहले बंधक बनाया गया उनके हाथ पैर बांधे गए। मुंह में कपड़ा ढूस दिया गया और फिर ईंट से वार कर दोनों का सिर कुचल दिया गया। पुलिस को हैरानी इस बात पर है कि कातिलों ने हत्या करने के बाद घर के किसी भी सामान को हाथ नहीं लगाया। यानी कातिलों का मकसद घर में लूटपाट करना नहीं था। 

पुलिस ने कातिलों का पता लगाने के लिए मौके पर खोजी कुत्ते को मंगवाया। फॉरेंसिक टीम ने मौके से कई सुराग हासिल किए लेकिन पुलिस के हाथ फिलहाल खाली हैं। कृष्णदत्त पांडे रेलवे से रिटायर होने के बाद लखनऊ में कृष्णानगर के फौजी कालोनी रहते थे। बेटा दुबई में डॉक्टर है तो वहीं बेटी शादी के बाद बरेली में रहती है। घर में बुजुर्ग पति पत्नी के अलावा किराएदार रहते हैं लेकिन वारदात के वक्त किराएदार घर में मौजूद नहीं थे। 

पुलिस इस दोहरे हत्याकांड के पीछे किसी करीबी के होने का शक जता रही है यही वजह है पुलिस ने संदेह के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है। वारदात के खुलासे के लिए पुलिस की कई टीमों के साथ ही क्राइम ब्रांच को भी लगाया गया है।