Blog single photo

दो महिलाओं ने किया ये काम, जानकर हैरान रह जाएंगे आप !

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में दो महिलाओं ने सामाजिक बंदिशें तोड़ ऐसा काम किया है जिसे जनाकर आप हैरान रह जाएंगे। यहां के रजिस्ट्रार दफ्तर पहुंचकर दो लड़कियों ने परिवार और समाज का भय छोड़ते हुए आपस में समलैंगिक विवाह कर लिया

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (29 दिसंबर): उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में दो महिलाओं ने सामाजिक बंदिशें तोड़ ऐसा काम किया है जिसे जनाकर आप हैरान रह जाएंगे। यहां के रजिस्ट्रार दफ्तर पहुंचकर दो लड़कियों ने परिवार और समाज का भय छोड़ते हुए आपस में समलैंगिक विवाह कर लिया, हालांकि कोर्ट में ये विवाह रजिस्टर्ड नहीं हो पाया। इसके पहले दोनों युवतियों ने एक मंदिर में हवन पूजन कर एक दूसरे को पति-पत्नी के रूप में स्वीकार कर लिया था। इस समलैंगिक जोड़े ने रजिस्ट्रार ऑफिस को प्रार्थना पत्र दिया। साथी ही पुलिस से भी उन्हें जुदा न करने की गुहार लगाई है।

राठ कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली दो युवतियां दीप शिखा और अभिलाषा जिला मुख्यालय के रजिस्ट्रार कोर्ट समलैंगिक विवाह के लिए पहुंची लेकिन रजिस्ट्रार अजय कुमार ने समलैंगिक शादी से जुड़ा कोई भी शासन आदेश विभाग में नहीं पहुंचने का हवाला देकर दोनों की शादी से इंकार कर दिया। बाद में इन दोनों लड़कियों ने एक दूसरे को जयमाला पहनाई। इस समलैंगिक जोड़े ने बताया कि वो पिछले 7 सालों से साथ रह रहे हैं। युवतियों ने बताया कि आगे चलकर वो एक बच्चे को गोद लेंगे। दोनों युवतियों ने बताया कि उनके परिजन इस शादी के खिलाफ हैं, इसलिये दोनों अकेले ही शादी रचाने आईं हैं। दोनों युवतियों ने बताया कि उनकी शादियां दो साल पहले हो चुकी थीं, लेकिन दोनों ने तलाक ले लिया था।

सब रजिस्ट्रार ने बताया कि समलैंगिक जोड़े ने शपथ पत्र के जरिए प्रार्थन पत्र देकर शादी को पंजीकृत करने और सामाजिक मान्यता देने की मांग की है, लेकिन समलैंगिक विवाह को सुप्रीम कोर्ट के मान्यता देने संबंधी कोई शासनादेश अब तक न आने की वजह से न तो शादी पंजीकृत की जा सकी है और न ही उसे मान्यता ही दी गई है।

Tags :

NEXT STORY
Top