बीजेपी विधायक साधना सिंह ने पार कीं मर्यादा की सारी हदें, मायावती पर की बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 जनवरी): यूपी के मुगलसराय से बीजेपी विधायक साधना सिंह ने बीएसपी मुखिया मायावती पर अभद्र टिप्पणी की है। उन्होंने कहा गेस्ट हाउस कांड का हवाला देते हुए कहा है कि चीरहरण होने के बाद भी मायावती एसपी के साथ गठबंधन कर रही है। विधायक की टिप्पणी के बाद सियासी घमासान शुरु हो गया है। बीएसपी ने पलटवार करते हुए कहा है कि एसपी-बीएसपी गठबंधन के बाद बीजेपी नेताओं का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है।

दरअसल एक कार्यक्रम में बोलते हुए साधना सिंह मायावती पर बहुत कुछ विवादित बातें कह गईं। उन्होंने मायावती  को किन्नर से भी बदतर बताते हुए कहा कि वह न महिला हैं और न पुरुष। गेस्ट हाउस कांड का हवाला देते हुए कहा कि चीरहरण होने के बाद भी वह गठबंधन कर रहीं हैं। जबकि बीजेपी  के नेताओं ने ही उनका मान-सम्मान बचाया था। विधायक साधना सिंह  ने और भी बहुत कुछ बसपा मुखिया मायावती के बारे में कहा।

बीजेपी की महिला विधायक के इस बयान पर बहुजन समाज पार्टी ने तीखा पलटवार किया है। बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि उन्होंने हमारी पार्टी की मुखिया सतीश चंद्र मिश्रा के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। लगता है कि एसपी-बीएसपी गठबंधन के बाद बीजेपी के नेताओं ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। लिहाजा, उन्हें आगरा और बरेली के मानसिक अस्पतालों में भर्ती होना चाहिए।

आपको बता दें कि इससे पहले बीजेपी के ही नेता दयाशंकर सिंह ने मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके बाद बीएसपी नेताओं ने लखनऊ में आक्रोश रैली की थी। इस दौरान बीएसपी नेताओं ने भी दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह और बेटी पर विवादित बयान दिया था। यह बयान कई दिनों तक सुर्खियों में रहा था और इसके बयान पर पलटवार करने के कारण स्वाति सिंह, बीजेपी की यूपी में सबसे बड़ी महिला नेता के रूप में उभर गई थीं। फिलहाल वह योगी सरकार में मंत्री हैं।