उत्तर प्रदेश: मुठभेड़ में कॉन्स्टेबल शहीद, 6 माह पहले ही हुई थी शादी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 जनवरी): योगी सरकार के लाख दावों के बावजूद उत्तर प्रदेश में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। बदमाशों में पुलिस-प्रशासन का कोई खौफ नहीं दिखाता। यहां अपराधी पुलिस पर भी फायरिंग करने से नहीं चुक रहे हैं। ताजा मामला अमरोहा का है। अमरोहा में बदमाशों के साथ मुठभेड़ में एक कॉन्स्टेबल शहीद हो गए। शहीद कॉन्स्टेबल का नाम हर्ष चौधरी है। शहीद सिपाही हर्ष चौधरी हाथरस जिले के रहने वाले थे। शातिर बदमाश शिव अवतार उर्फ शिविया के साथ बछरायूं इलाकाके इंद्रपुर गांव में हुई मुठभेढ़ में वह शहीद हो गए। पुलिस के मुताबिक दोनों ओर से भारी फायरिंग की चपेट में हर्ष चौधरी आ गए। हर्ष चौधरी को तुरंत मुरादाबाद के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान ही उन्होंने दम तोड़ दिया। जानकारी के मुताबिक हर्ष चौधरी की 6 माह पहले ही शादी हुई थी। वह हाथरस के रहने वाले हैं और 2016 में यूपी पुलिस में भर्ती हुए थे।

पुलिस के साथ मुठभेड़ में शातिर बदमाश शिव अवतार उर्फ शिविया ढेर हो गया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी बदमाश पर दो दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे। मुठभेड़ की घटना तब हुई जब रविवार शाम को रुटीन चेकिंग के दौरान पुलिस ने उसे दबोचने की कोशिश की, लेकिन शिविया ने पुलिस पर फायरिंग कर भागने की कोशिश की, पुलिस ने भी जवाब में गोलियां चलाई।  

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुठभेड़ में पुलिस कांस्टेबल हर्ष चैधरी की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शहीद पुलिसकर्मी को श्रद्धांजलि देते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने शहीद कांस्टेबल की पत्नी को 40 लाख रुपये तथा चौधरी के माता पिता को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की। उन्होंने शहीद चौधरी की पत्नी को असाधारण पेंशन तथा परिवार के एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की है।