योगी सरकार के एक आदेश से आईपीएस अफसरों में खलबली

नई दिल्ली(10 दिसंबर): उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजीव कुमार के एक आदेश के बाद राज्य के आईपीएस अधिकारियों में खलबली मच गई है। आदेश के मुताबिक आईपीएस अधिकारियों के अधिकार में कटौती होगी। 

- मुख्य सचिव राजीव कुमार ने एक आदेश जारी कर कहा है कि अब ज़िलों में तैनात एसएसपी के साथ ज़िलाधिकारी भी अपराध की समीक्षा करेंगे।

- वहीं क्राइम मीटिंग की अध्यक्षता एसएसपी की जगह डीएम करेंगे। 

- क्राइम मीटिंग में एसएसपी को मौजूद रहना होगा। 

- थानाध्यक्षों की तैनाती में भी अब औपचारिकता से काम नहीं चलेगा। डीएम की सलाह के बिना थानाध्यक्ष की तैनाती भी नहीं हो पाएगी। 

- मुख्य सचिव के इस आदेश के बाद से यूपी के आईपीएस अफसर सकते में हैं और एसोसिएशन से इस में हस्तक्षेप की दुहाई दे रहे हैं।