दक्षिण चीन सागर में चीन ने तैनात की मिसाइलें, अमेरिका ने अंजाम भुगतने की दी धमकी

नई दिल्ली (04 मई): चीन द्वारा दक्षिण सागर की तीन चौकियों पर एंटी शिप क्रूज मिसाइलें और जमीन से हवा में मार करने वाला मिसाइल सिस्टम तैनात करने के बाद व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि 'हम चीन के दक्षिण चीन सागर के सैन्यीकरण के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं। हमने इसको लेकर चीनी नेतृत्व से सीधे सवाल उठाया है। इसके निकट अवधि और लंबी अवधि के परिणाम चीन को भुगतने होंगे।'

अमेरिकी खुफिया एजेंसी का आकलन है कि प्रबल संभावना है कि चीन की सेना ने इस विवादित जलक्षेत्र में सैन्याभ्यास के दौरान जहाज और विमान रोधी मिसाइलें तैनात की हैं। दक्षिण चीन सागर दुनिया के सबसे विवादित क्षेत्रों में से एक है. इस पर चीन, फिलीपींस, वियतनाम सहित कई देश अपना दावा करते हैं।उल्लेखनीय है कि चीन ने विवादित दक्षिणी चीन समुद्र में ‘पोत भेदी क्रूज मिसाइल’ और ‘सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली’ की तैनाती पर कहा है कि इस क्षेत्र पर ‘निर्विवाद रूप से उसका आधिपत्य’ है. ‘दक्षिणी चीन समुद्र’ और ‘पूर्वी चीन समुद्र’ को लेकर चीन हमेशा विवाद में रहा है। वहीं चीन दक्षिणी चीन समुद्र के पूरे हिस्से पर अपना दावा करता रहा है जबकि वियतनाम, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान इसके उलट दावा करते हैं।