फर्जी खबर' दिखाने पर भड़के ट्रंप, नाराजगी के बाद अखबार के रिपोर्टर ने मांगी माफी

नई दिल्ली (11 दिसंबर): अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और देश की मीडिया के बीच छत्तीस का आंकड़ा नई बात नहीं है।  फ्लोरिडा में अपनी रैली को लेकर वॉशिंगटन पोस्ट के एक रिपोर्टर द्वारा गलत तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट किए जाने पर ट्रंप भड़क गए। उन्होंने इसे भ्रामक बताते हुए रिपोर्टर से माफी मांगने को कहा, जिसके बाद रिपोर्टर ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए माफी मांग ली है। 

वाशिंगटन पोस्ट के लिए राजनीतिक मामलों को कवर करने वाले डेव वीगल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की थी। इस तस्वीर में दिख रहा था कि ट्रंप जब सार्वजनिक बैठक को संबोधित कर रहे थे तब कुर्सियां खाली पड़ी थीं।

इस पर ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, ' वीगल द्वारा ट्विटर पर पोस्ट की गई तस्वीर मेरे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने से घंटों पहले की है, जिसमें खाली कुर्सियां दिख रही है. इस दौरान रैली में शामिल होने के लिए आ रहे हजारों लोग रास्ते में थे। वास्तविक तस्वीर अब दिखी है। पूरी जगह भरी हुई थी। भीड़ इतनी ज्यादा थी कि बहुत सारे लोगों को बाहर ही रहना पड़ा। मैं माफी की मांग करता हूं।'

.@DaveWeigel @WashingtonPost put out a phony photo of an empty arena hours before I arrived @ the venue, w/ thousands of people outside, on their way in. Real photos now shown as I spoke. Packed house, many people unable to get in. Demand apology & retraction from FAKE NEWS WaPo! pic.twitter.com/XAblFGh1ob

— Donald J. Trump (@realDonaldTrump) December 9, 2017


संवाददाता वीगल ने कुछ मिनट के भीतर ही माफी मांगते हुए ट्वीट किया ' जी हां, मैं माफी मांगता हूं। डेली मेल के डेविट मार्टोस्को ने जब मुझे इस चूक के बारे में बताया तो मैंने इसे डिलीट कर दिया। तस्वीर में जब आप दाहिने हिस्से में चल रहे थे तो मैं इसकी वजह से संशय में आ गया था।'

वीगल द्वारा माफी मांगने के बाद ट्रंप ने ट्वीट किया कि वह चाहते हैं कि रिपोर्टर को नौकरी से निकाल दिया जाए।

.@daveweigel of the Washington Post just admitted that his picture was a FAKE (fraud?) showing an almost empty arena last night for my speech in Pensacola when, in fact, he knew the arena was packed (as shown also on T.V.). FAKE NEWS, he should be fired.

— Donald J. Trump (@realDonaldTrump) December 9, 2017